मेरे सपने

‘‘ चिकित्सक बनकर स्वस्थ समाज की परिकल्पना को साकार करने का सपना है। मेरी आदर्श भारत रत्न मदर टेरेसा हैं।

-तन्वी उपाध्याय, कक्षा-9, रैदोपुर।

Edited By: Jagran