संवाद सहयोगी, महम : शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुर्जर ने कहा कि 1857 की क्रांति सबसे पहले अम्बाला छावनी से शुरू हुई। प्रदेश का हर गांव क्रांति का केन्द्र बन गया था। महम का आजाद चौक भी अंग्रेजी हुकूमत के जुल्मो-सितम के खिलाफ हरियाणावासियों के संघर्ष और बलिदान के साक्षी है। उन्होंने कहा कि हमें अपने स्वतंत्रता सेनानियों व शहीदों को हमेशा याद रखना है। मंत्री गुर्जर ने स्वतंत्रता दिवस समारोह में ध्वजारोहण किया। उन्होंने स्वतंत्रता दिवस समारोह के प्रतिभागियों को पांच लाख रुपये की राशि देने की घोषणा की। उन्होंने परेड में शामिल टुकड़ियों का निरीक्षण किया तथा भव्य मार्च पास्ट की सलामी ली। पुलिस उपाधीक्षक सुशीला के नेतृत्व में परेड टुकड़ियों ने मुख्य मंच के सामने से गुजरते हुए सलामी दी। विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले व्यक्तियों व बच्चों को सम्मानित किया गया। भाजपा नेता शमशेर खरकड़ा व मदन गोयल को भी स्मृतिचिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में विभिन्न विद्यालयों के विद्यार्थियों ने मास पीटी शो का प्रदर्शन किया तथा भैयापुर लाढौत स्थित गुरुकुल विश्व भारती के विद्यार्थियों ने मलखंब व अन्य साहसी करतब प्रस्तुत किए। यह रहे उपस्थित :

स्वतंत्रता दिवस समारोह में उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार, पुलिस अधीक्षक उदय सिंह मीणा, महम के उपमंडलाधीश दलबीर फौगाट, प्रदेश सह मीडिया प्रमुख शमशेर खरक, अधिवक्ता अनीता बुधवार, प्रो. मदन लाल गोयल, मनीषा पंवार, जिला परिषद के अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी गौरव गुप्ता, बिजली विभाग के अधीक्षक अभियन्ता एके यादव, नगरपालिका की चेयरपर्सन भारती पंवार, नायब तहसीलदार दीपक, जिला शिक्षा अधिकारी वीरेंद्र सिंह, उप जिला शिक्षा अधिकारी आशा दहिया, खंड शिक्षा अधिकारी बिजेंद्र हुड्डा, महंत सतीश दास, सत्यवीर भराण, धर्मबीर खत्री, मास्टर जगबीर सिंह, फतेह सिंह पूर्व चेयरमैन, राम निवासी रोहिल्ला, बसंत लाल, नवीन उप्पल, भीष्म दुआ, अजीत सिंह, नरेश चेयरमैन, वजीर नेहरा सहित विभिन्न विभागों के उच्चाधिकारी, सांस्कृतिक टीमों के प्रभारी, प्रतिभागी एवं गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

Edited By: Jagran