अलीगढ़, जागरण संवाददाता। Sharadiya Navratri 2022 : बंगाल की पृष्ठभूमि को अंगीकार कर विधिविधान से भक्तजन मां दुर्गा के सपरिवार आगमन पर स्वागत को तैयार हैं। Durgabari में इसकी तैयारी हो चुकी हैं। Durgabari Conference की ओर से दुर्गा पूजा का आयोजन शनिवार से शुरू हो रहा है। यह पांच अक्टूबर तक चलेगा।

शाम को आरती व सांस्‍कृतिक कार्यक्रम

चार दिन के कार्यक्रम में मां दुर्गा की पूजा के साथ प्रसाद वितरण, सुबह-शाम विशेष संध्या आरती व सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। षष्ठी को मां दुर्गा का आगमन होगा। Dignity of life उपरांत पूजा व आरती होगी। शाम को संध्या आरती व सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। परिसर में मेला भी लगेगा, जिसमें महिलाएं स्टाल लगाएंगी। आयोजन समिति में अध्यक्ष चंदन चटर्जी, सचिव जगदीश भट्टाचार्य, कोषाध्यक्ष भोलानाथ अधिकारी, सदस्य आलोक चक्रवर्ती, तापस दत्ता, अर्धेन्दू मोइत्रा, पुलक मुखर्जी, संजय मुखर्जी, डा. प्रभात दासगुप्ता, झूमा अधिकारी, बिपाशा मुखर्जी आदि शामिल हैं।

तिथिवार ये होंगे कार्यक्रम

सप्तमी को प्रातः मां भगवती की पूजा के बाद भोग वितरण होगा। शाम 7:30 बजे आरती के बाद semi classical dance competition होगी। अष्टमी को सुबह मां भगवती की विशेष पूजा व भोग का आयोजन होगा। दोपहर एक बजे से 108 दीपकों से ओम की आकृति से माता की विशेष संधि पूजा होगी। शाम 7:30 बजे आरती के बाद सुगम संगीत कार्यक्रम होगा। नवमी को को प्रातः मातारानी की पूजा व विशेष बंगाली भोग होगा। शाम को गायन व नृत्य का रंगारंग कार्यक्रम होगा। दशमी को सुबह मां की विदाई होगी व सिंदूर खेला होगा। दोपहर बाद तीन बजे प्रतिमा विसर्जन के लिए शोभायात्रा हरदुआगंज गंगा नहर को प्रस्थान करेगी।

स्कंदमाता की आराधना में रमे भक्त

अलीगढ़ । मातारानी के पांचवें स्वरूप स्कंदमाता की शुक्रवार को पूजा की गई। नौरंगाबाद स्थित देवी मंदिर, मेलरोज बाईपास स्थित कामाख्या मंदिर, गांधी पार्क स्थित चामुंडा मंदिर, हाथरस रोड स्थित पथवारी मंदिर समेत अन्य मंदिरों व घरों में श्रद्धालुओं ने पूजा की। शाम को कुछ मंदिरों में भजन संध्या हुई।

माता की चौकी में भजनों पर झूमे श्रद्धालु

अलीगढ़ । नगला मसानी गोशाला में माता की चौकी का आयोजन किया गया। इसमें गणेश स्तुति के साथ भजन सुनाए गए। गायिका नगीना ने मैया तेरे चरणों की रज धूल जो मिल जाए.. सुनाया। कृष्णा गुप्ता ने मैया का चोला है रंगला, शेरा वाली का चोला है रंग लाल सुनाया। अनीता गुप्ता ने हनुमान जी का भजन गाया। रश्मि ने राधा कान्हा का भजन गाया। श्रद्धालुओं ने नृत्य किया। प्रभा सिंह को पुरस्कार मिला। दुर्गा मल्लिका नीलम रहे। मुख्य अतिथि जया रानी रहीं।

Edited By: Anil Kushwaha

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट