शिमला, राज्य ब्यूरो। विपक्ष के शोर औेर नारेबाजी के बीच प्रश्नकाल के शुरू होते ही भाजपा विधायक रमेश धवाला ने बिजली के उपकरण व सामान की आपूर्ति में असमानता की बात करते हुए ऊर्जा मंत्री को घेरा। रमेश चंद धवाला ने कहा कि कुछ मंडलों में बिजली के ट्रांसफार्मर व अन्य सामान ज्यादा है जबकि कहीं पर उपलब्ध ही नहीं है। केवल उनके मंडल को 230 बिजली के पोल मिले हैं। सुखराम चौधरी ने विपक्ष के शोर के बीच अपने जवाब में बताया कि करोड़ों रुपये का सामना मंडलों में उपयोग किया गया है और उपलब्ध है।

बिजली बोर्ड हर सर्कल में सामान खरीदता है। धर्मशाला डिविजन एक वर्ष पूर्व खुला है औैर 50 प्रतिशत सामान एक माह में उपलब्ध करवा दिया जाएगा। मंडलों में सामान प्राकृतिक आपदा से निपटने के लिए रखा जाता है जिससे किसी भी तरह की समस्या न हो और बिजली आपूर्ति को सुनिश्चित करने को कहा है।

प्रदेश के दिव्यांगों को नौकरी देने को लेकर इंद्र दत्त लखनपाल के लिखित प्रश्न के जवाब में कहा कि प्रदेश के रोजगार कार्यालयों में 19607 दिव्यांग पंजीकृत हैं और प्रदेश के विभिन्न विभागों में 381 दिव्यांगोें को रोजगार दिया गया है। कर्नल इंद्र सिंह द्वारा नगारिक अस्पताल सरकाघाट में चिकित्सकों के रिक्त पदों को लेकर पूछे प्रश्न के जवाब में स्वास्थ्य मंत्री डा. राजीव सैजल ने कहा कि 15 पद चिकित्सकों के सृजित हैं और इसमें से दो चिकित्सक बीते कल तैनात किए हैं जिससे अब केवल तीन ही पद रिक्त रह गए हैं।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma