गोरखपुर, जागरण संवाददाता। गोरखपुर जिले में पुरानी रंजिश में मनबढ़ों ने गोरखनाथ के बनकटवा में भाइयों पर फायरिंग कर सनसनी फैला दी। वारदात के बाद आरोपित असलहा लहराते हुए फरार हो गए। पीड़ित की शिकायत पर हत्या की कोशिश करने का मामला दर्ज कर गोरखनाथ थाना पुलिस ने पिस्टल व घटना में प्रयुक्त बाइक के साथ चार आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

यह है मामला

बनकटवा निवासी मिथलेश कुमार चौहान रात 11 बजे अपने भाई के साथ मकान के बाहर खड़े थे। उसी समय दो बाइक से पहुंचे चार मनबढ़ों ने गाली देते हुए पिस्टल से फायरिंग शुरू कर दी। दोनों भाइयों ने घर में छिपकर जान बचाई। शोर मचाने पर आसपास के लोग जुटे तो आरोपित असलहा लहराते हुए फरार हो गए। डायल 112 पर घटना की जानकारी देने पर एसपी सिटी कृष्ण कुमार विश्नोई, सीओ गोरखनाथ फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए।

इनके खिलाफ दर्ज कराया मुकदमा

मिथलेश ने पुरानी रंजिश में वारदात होने की जानकारी देते हुए गोरखनाथ के साकेतपुरी कालोनी निवासी महेश यादव, ग्रीन सिटी निवासी विवेक चतुर्वेदी, भाटी विहार निवासी मंगल चौहान और सिकरीगंज के ढे़बरा निवासी अविनाश शुक्ल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। सुबह गोरखनाथ थाना पुलिस ने 7.65 बोर की पिस्टल, एक कारतूस व घटना में इस्तेमाल बाइक के साथ आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया।

अधिकारी बोले

एसपी सिटी कृष्ण कुमार विश्नोई ने बताया कि पकड़े गए अभियुक्तों में मंगल चौहान के विरुद्ध मारपीट का मुकदमा पहले से दर्ज है।

किसी में हिम्मत नहीं जो हमसे सीना मिला सके

फायरिंग करने के दौरान आरोपित मिथिलेश को गाली देने के साथ ही यह बोल रहे थे किसी में इतना दम नहीं है कि हमसे सीना मिला सके।जो काेशिश करेगा उसका अंजाम बुरा होगा यह कहते हुए वह बनकटवा गांव की तरफ फरार हो गए।

भगत चौराहा पर फायरिंग की सूचना से फैली थी सनसनी

गुरुवार की दोपहर भगत चौराहा देसी शराब की दुकान के पास फायरिंग की सूचना पर सनसनी फैल गई।पुलिस पहुंची तो पता चला कि नशे धुत युवक ने विवाद होने पर डायल 112 पर फोन कर फायरिंग होने की झूठी सूचना दी थी।

Edited By: Pragati Chand