सीमेंट भेजने के नाम पर 3.42 लाख रुपये की ठगी, जांच शुरू

देवरिया: जिले में इन दिनों तेजी से साइबर अपराध बढ़ा है। इंटरलाकिंग ईंट का निर्माण करने वाले एक व्यवसायी से सीमेंट भेजने के नाम पर साइबर अपराधियों ने 3.42 लाख रुपये की ठगी कर लिया है। इस मामले में संबंधित ने साइबर क्राइम सेल में अपनी शिकायत दर्ज कराई है। टीम अब जांच में जुट गई है।

लार थाना क्षेत्र के हरखौली गांव के रहने वाले मनोज पांडेय इंटरलाकिंग ईंट का निर्माण कार्य करते हैं। उन्होंने इंटरनेट से एक नामी सीमेंट कंपनी का मोबाइल नंबर निकाला और 11 अगस्त को बात किए। साथ ही सीमेंट भेजने की बात कही। संबंधित ने खाता नंबर दिया तो उसमें उन्होंने 3.42 लाख रुपये भेज दिया। दो दिन बाद तक जब सीमेंट नहीं पहुंचा तो वह परेशान हो गए। इसके बाद संबंधित नंबर पर फोन करने लगे, लेकिन वह नंबर रिसीव नहीं हुआ। पुन: उन्होंने दूसरा नंबर इंटरनेट से निकाला और मिलाए तो संबंधित ने कहा कि वह कहीं व्यस्त हैं, दूसरा खाता नंबर भेज रहा हूं, 300 और बोरी का दाम भेज दीजिए, एक ही साथ दोनों सीमेंट भेज दिया जाएगा। इसके बाद जालसाज इनको लगातार फोन करने लगे। शक होने पर संबंधित खाता नंबर की उन्होंने जांच कराई तो पता चला कि वह किसी व्यक्ति के नाम से है।

तीन लोगों पर हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज

बरहज के परसिया देवार के अमूरतानी टोला के रहने वाले तीन लोगों के विरुद्ध पुलिस ने हत्या के प्रयास सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। परसिया देवार के अमूरतानी टोला के रहने वाले राम प्रवेश यादव पुत्र पारस यादव को गांव के सूरज यादव, देवेंद्र यादव पुत्रगण पारस यादव, महादेव यादव पुत्र धनी यादव मारपीट कर घायल कर दिया। बीच-बचाव करने गए रामप्रवेश यादव की पत्नी रेखा को भी लाठी-डंडे से पीटकर घायल कर दिए। राम प्रवेश यादव की तहरीर पर पुलिस ने तीनों के विरुद्ध हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज की है।

Edited By: Jagran