आनलाइन डेस्क, लुधियाना/पटियाला। Patiala Famous Tourist places: पंजाब में सर्दियाें के माैसम में घूमने का मजा ही कुछ और है। यहां आप आकर हर समय तराेताजा महसूस करेंगे। यदि राज्य के शाही शहर पटियाला आ रहे हैं ताे यहां की खूबसूरती के आप कायल हाे जाएंगे। यहां के दर्शनीय स्थलाें की बात ही और है।

शाही शहर पटियाला में आपको लो-बजट से लेकर हाई-बजट तक होटल मिल जाएंगे। आप अपनी सुविधा और बजट के अनुसार होटल का चुनाव कर सकते हैं। यहां के प्रमुख दर्शनीय स्थलाें में शीशमहल और किला मुबारक काफी फेमस है। आइय़े जानते हैं पटियाला के पांच प्रमुख धार्मिक स्थलाें के बारे में।

1-किला मुबारक कांप्लेक्स

शाही शहर का किला मुबारक कांप्लेक्स पर्यटकों को खूब लुभाता हैं। किला मुबारक कांप्लेक्स सिख महल स्थापत्य शैली में निर्मित किया गया हैं। यह मुगल और राजपूतों की शानदार वास्तुकला काे प्रदर्शित करता है। बता दें कि यह प्राचीन किला एक सह-महल है, जोकि सन 1764 के दौरान महाराजा अला सिंह की आदेशानुसार बनाया गया था। किला परिसर के प्रमुख आकर्षण में रानी बास (गेस्ट हाउस), दरबार हाल, किला एंड्रोन के अलावा अन्य कई नायाब खंड शामिल हैं। किले के अंदर भूमिगत सीवरेज प्रणाली और किला बहादुरगढ़ सबसे प्रमुख है।

2-आकर्षण का स्थल शीश महल

शीश महल पंजाब के एक मशहूर महल है। जिसका निर्माण 19वीं शताब्दी में पुरानी मोती बाग महल के एक अहम भाग के रूप में किया गया था। शीश महल में आपको कई भित्ति चित्र देखने को मिलेंगे जिनमे से ज्यादातर महाराजा नरिंदर सिंह के शासनकाल में बनाए गए थे। शीश महल का शाब्दिक अर्थ “पैलेस ऑफ मिरर” हैं। बता दें कि महल के सामने की ओर लक्ष्मण झूला नामक एक आकर्षित ब्रिज और झील है जोकि महल की सुंदरता को ओर अधिक बढ़ा देती हैं। शीश महल घूमने के लिए पर्यटक बड़ी संख्या में आते हैं।

3-मोती बाग पैलेस

शाही शहर का प्रसिद्ध मोती बाग पैलेस एक प्राचीन और आकर्षित महल है, जोकि पटियाला के मोती बाग में स्थित हैं। मोती बाग पैलेस का निर्माण महाराजा भूपिंदर सिंह ने 1840 में किया था। हालांकि महल परिसर का विस्तार 1920 के दौरान किया गया था। मोती बाग़ पैलेस में 20वीं शताब्दी से संबंधित कई आकर्षित चित्रों को देखा जा सकता हैं। महल की वास्तुकला में राजपूत और कांगड़ा शैलियों की झलक देखते बनती हैं।

4- बारादरी गार्डन

बारादरी गार्डन महाराजा राजिंदर सिंह के शासनकाल में निर्मित किया गया था। इसे देखने के लिए देशभर से पर्यटक आते हैं। यह आकर्षित गार्डन शेरनवाला गेट के निकट पुराने पटियाला शहर में उत्तर दिशा में स्थित हैं। बारादरी गार्डन में कई सारे दुर्लभ पेड़-पौधे, आकर्षित झाड़ियां और पुष्प देखने को मिलते हैं, साथ ही औपनिवेशिक इमारतों की मौजूदगी गार्डन की शोभा में चार चांद लगा देती है। यहां महाराजा राजिंदर सिंह की एक खूबसूरत प्रतिमा भी है। गार्डन के अन्य आकर्षण में क्रिकेट स्टेडियम, एक छोटा महल और स्केटिंग रिंक आदि हैं। वर्तमान में महल परिसर को हेरिटेज होटल में तबदील कर दिया गया हैं।

5-बहादुरगढ़ किला

पटियाला का ऐतिहासिक बहादुरगढ़ किला काफी फेमस है। इसे 1658 ई.पू. में नवाब सैफ खान द्वारा निर्मित किया गया था। हालांकि बाद में सन 1837 में महाराजा करम सिंह के शासन काल में किले को पुनर्निर्मित किया गया था। बहादुरगढ़ किला 21 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ हैं और सिखों के नौवे गुरु तेग बहादुर के नाम पर इस किले का नाम रखा गया था। किला परिसर में एक गुरुद्वारा बना हुआ है जिसे गुरुद्वारा साहिब पातशाही के नाम से जाता है और एक मस्जिद भी बनी हुई हैं। बहादुरगढ़ किला परिसर को वर्तमान समय के दौरान पंजाब पुलिस कमांडो ट्रेनिंग सेंटर के रूप उपयोग किया जा रहा है।

Edited By: Vipin Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट