राष्ट्रीय लोक अदालत में 582 मामलों का हुआ निष्पादन

भभुआ: स्थानीय व्यवहार न्यायालय परिसर में शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। जिसका उद्घाटन जिला एवं सत्र न्यायाधीश संपूर्णानंद तिवारी व जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव मधुकर सिंह ने किया। राष्ट्रीय लोक अदालत में मामलों की सुनवाई के लिए छह बेंच लगाए गए थे। सभी बेंचों पर प्रतिनियुक्त न्यायिक पदाधिकारी व कर्मियों ने लोगों के मामलों की सुनवाई करने में तत्परता दिखाई। मिली जानकारी के अनुसार राष्ट्रीय लोक अदालत में कुल 582 मामलों का आन द स्पाट निष्पादन किया गया। इसमें 542 बैंक, पांच टेलीफोन एवं आपराधिक व अन्य तरह के 40 मामले शामिल हैं। बैंक के मामलों में तीन करोड़ 34 लाख 74 हजार 90 रुपये की रिकवरी हुई। जबकि टेलीफोन के मामले में 19 हजार 227 रुपये की रिकवरी हुई। वाहन दुर्घटना बीमा में 13 लाख 50 हजार रुपये की रिकवरी हुई। क्रिमनल कंपाउंड मामलों में 22 हजार की रिकवरी हुई। राष्ट्रीय लोक अदालत में वर्ष 2014 के दो गंभीर मामले का भी आपसी समझौता से निष्पादन हुआ। जिसमें अधौरा थाना क्षेत्र का मामला रहा। वर्ष 2014 में सूचक संजय कुमार सिंह गांव बानोदाग ने लोरिक सिंह, ललन सिंह, भगवान सिंह आदि पर प्राथमिकी कराई थी। वहीं दूसरे पक्ष से लोरिक सिंह यादव ने रामविलास सिंह, राजू सिंह यादव, संजय सिंह यादव पर प्राथमिकी कराई थी। दोनों पक्ष ने आपस में सुलह कर लिए। दोनों पक्ष आपस में सुलह करने पर काफी खुश दिखे। यह मामला बेंच नंबर तीन पर निष्पादित किया गया।

Edited By: Jagran