नई दिल्ली [रीतिका मिश्रा]। CBSE Board Exams Result 2020केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (Central Board of Secondary Education)  10 वीं और 12वीं कक्षा का परिणाम जारी करने की तैयारियों में तेजी से जुटा हुआ है। माना जा रहा है कि 10वीं और 12वीं के परीक्षा परिणाम 15 जुलाई को या उससे पहले भी जारी किए जा सकते हैं। इस बीच एक बड़ी खबर भी आ रही है कि सीबीएसई भी अब परिणामों को लेकर काउंसिल ऑफ द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (Council of the Indian School Certificate Examination) की तरह मेरिट लिस्ट जारी नहीं करने का फैसला ले सकता है।

इस बाबत सीबीएसई के परीक्षा नियंत्रक संयम भारद्वाज ने बताया कि कोरोना के चलते एवरेज मार्किंग के जरिए बोर्ड परीक्षा के परिणाम जारी किए जाएंगे। ऐसे में संभव है कि बोर्ड असाधारण परिस्थितियों को देखते हुए इस वर्ष मेरिट लिस्ट न जारी की जाए और न ही टॉपर्स का एलान करे।

संभावित टॉपर्स हो सकते हैं नाराज

सीबीएसई के इस फैसले से उन छात्र-छात्राओं को झटक लग सकता है कि जो टॉपर्स बनने की झमता और इरादा रखते हैं, वहीं ज्यादातर छात्र इससे सहमत हैं। यह पहला मौका है जब सीबीएसई को ऐसा कदम उठाना पड़ रहा है।

यहां पर बता दें कि कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते प्रभाव और खतरे को देखते हुए मार्च महीने में सीबीएसई ने  10वीं और 12वीं की शेष बोर्ड परीक्षाएं रद कर दी थी। सुप्रीम कोर्ट ने भी बोर्ड की मूल्यांकन योजना (असेसमेंट स्कीम) को मंजूरी दे दी थी। जो पेपर रद किए गए हैं, उनके मार्क्स इसी असेसमेंट स्कीम के आधार पर दिए जाएंगे।

सीबीएसई के मुताबिक असेसमेंट स्कीम के तहत बोर्ड परीक्षा के पिछले तीन पेपरों के औसत नंबर के आधार पर नंबर दिए जाएंगे। दूसरे शब्दों में कहें तो रद्द किए गए शेष पेपरों के मार्क्स उन पेपरों के औसत नंबर के आधार पर दिए जाएंगे जो पहले ही हो चुके हैं। 

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस