नई दिल्ली, एजुकेशन डेस्क। गेट 2022 परीक्षा का आयोजन आइआइटी खड़गपुर द्वारा 5 से 13 फरवरी तक आयोजित किया जाना है। हालांकि, परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए आवेदन किए उम्मीदवारों के लिए गेट एडमिट कार्ड जारी किए जाने के 3 जनवरी के कार्यक्रम को स्थगित किए जाने के बाद भले ही संस्थान निदेशक द्वारा इस सप्ताह की शुरूआत में कहा गया कि हम गेट 2022 का आयोजन किए जाने या स्थगित किए जाने के निर्णय पर सम्बन्धित संस्थानों से चर्चा कर रहे हैं, लेकिन इस बीच उम्मीदवारों द्वारा परीक्षा को स्थगित किए जाने की मांग उठाई जाने लगी है। गेट 2022 के लिए आवेदन किए कई उम्मीदवार सोशल मीडिया के माध्यम से कोविड-19 महामारी के बढ़ते मामलों का हवाला देते हुए परीक्षा प्रशासकों से स्थगित करने की गुहार लगा रहे हैं।

परीक्षा केंद्र बदलने का मौका देने की भी है मांग

परीक्षा स्थगित करने की मांग के साथ-साथ उम्मीदवार कोविड-19 महामारी के कारण परीक्षा केंद्र में संशोधन की भी मांग कर रहे हैं। उम्मीदवारों की कहना है कि महामारी की रोकथाम के चलते लगाए जा रहे प्रतिबंधों के चलते वे अपनी आवेदित परीक्षा शहर से फिलहाल रह रहे हैं, ऐसे में उन्हें अपने आवेदित परीक्षा शहर में बदलाव का विकल्प दिया जाए।

गेट 2022 एडमिट कार्ड

बता दें कि आइआइटी खड़गपुर द्वारा गेट 2022 एडमिट कार्ड को 3 जनवरी को जारी किया था, जिसे बाद में फिर में 7 जनवरी को जारी किया जाना था। हालांकि, संस्थान द्वारा इसे एक बार फिर टाल दिया गया था। इसके बाद से परीक्षा पोर्टल पर प्रवेश परीक्षा डाउनलोड जल्द शुरू किये जानी की जानकारी फिलहाल अपडेट की गयी है।

गेट परीक्षा के बारे में

इंजीनियरिंग में ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट (गेट) एक परीक्षा है जो मुख्य रूप से कुछ सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों द्वारा मास्टर्स प्रोग्राम और भर्ती में प्रवेश के लिए इंजीनियरिंग और विज्ञान में विभिन्न स्नातक विषयों की व्यापक समझ का परीक्षण करती है। GATE 2022 का संचालन भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान खड़गपुर और छह अन्य भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मुंबई, दिल्ली, गुवाहाटी, कानपुर, चेन्नई, रुड़की और भारतीय विज्ञान संस्थान बेंगलुरु द्वारा भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय (एमओई) के उच्च शिक्षा के राष्ट्रीय समन्वय बोर्ड (एनसीबी)-गेट की ओर से किया जा रहा है।

Edited By: Rishi Sonwal