नई दिल्ली, पीटीआइ। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE)  ने बोर्ड  परीक्षा में शरारती सूचना फैलाने वालों को चेतावनी दी है। 2020 की बोर्ड परीक्षा नजदीक है ऐसे में सोशल मीडिया पर किसी भी प्रकार की गलत सूचना से अभिभावक और छात्र की परेशानी को ध्यान में रखकर यह फैसला किया है। साथ ही अभिभावक और छात्रों को सलाह दी गई है कि वह बोर्ड परीक्षा से जुड़ी किसी भी अफवाह से बिल्कुल घबराए नहीं।

होगी सख्त कार्रवाई

सीबीएसइ की तरफ से कहा गया है कि ऐसी जानकारी मिली है कि कुछ असमाजिक तत्व सोशल मीडिया के प्लेटफॉर्म फेसबुक, ट्वीटर और यूट्यूब पर बोर्ड परीक्षाओं से संबंधित अफवाह वाली वीडियो शेयर कर सकते हैं। जिससे छात्र और अभिभावक और स्कूल प्रशासन को परेशान किया जा सके। ऐसे में ऐसे असामिजक तत्वों को चेतवानी दी जाती है कि किसी भी प्रकार की ऐसी अफवाह फैला कर कानून को अपने हाथ में ना लें।

बोर्ड सचिव अनुराग त्रिपाठी ने कहा कि यदि ऐसी किसी भी प्रकार की कोई भी सूचना सीबीएसई के संज्ञान में आती है, आवश्यकतानुसार तत्काल उपचारात्मक कार्रवाई और कानून के प्रावधानों के अनुसार सीबीएसई द्वारा कदम उठाए जाएंगे।

15 फरवरी से शुरू होगी परीक्षा

साथ ही बोर्ड की तरफ से जनता को भी बोर्ड की परीक्षा का आयोजन सामान्य तरीके से करने का सहयोग मांगा गया है। साथ ही किसी भी प्रकार की अफवाह फैलाने में शामिल ना होने की अपील की है। बता दें कि सीबीएसइ 12वीं कक्षा की परीक्षा 15 फरवरी से 30 मार्च तक चलेगी जबकि दसवीं कक्षा की परीक्षा 15 फरवरी से 20 मार्च तक चलेगी।

परीक्षा से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छात्रों से परीक्षा पर चर्चा की थी। इस दौरान पीएम मोदी ने छात्रों  का हौसला बढ़ाया था। यह नहीं छात्रों के प्रश्नों जवाब भी दिए थे। यह कार्यक्रम दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में हुआ था। 

Posted By: Pooja Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस