--स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर राज्यपाल गंगा प्रसाद का संदेश

संवाद सूत्र, गंगटोक: देश की 76 वा स्वतंत्रता दिवस के पूर्व संध्या में सिक्किम के राज्यपाल गंगा प्रसाद ने राज्य और देश के नागरिकों को शुभकामनाएं दी है। अपने संदेश में राज्यपाल गंगा प्रसाद ने कहा है कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में भारत सरकार ने 75 वा आजादी का अमृत महोत्सव के बैनर तले स्वतंत्रता दिवस मनाने का पहल किया है। इसका उद्देश्य स्वतंत्रता संग्रामियों के गौरव गाथा का उजागर करना साथ ही अपरिचित स्वतंत्रता सेनानियों के योगदान को प्रकाश में लाना है, जिनकी बलिदान के कारण आज हम स्वतंत्र भारत में है। उन्हें श्रद्धाजलि देना हमारा हमारा कर्तव्य है।

राज्यपाल गंगा प्रसाद ने आगे कहा है कि इस अवसर पर पूर्वजों ने देश को विदेशी औपनिवेशिक शासन के बंधन से मु1त किया था उसे स्मरण किया जाए। उन्होंने भारत की 15वीं राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु को बधाई दी है। राज्यपाल ने उल्लेख किया है कि साल 1975 के बाद सिक्किम में पर्यटन, स्वास्थ्य, शिक्षा, महिला अधिकार, कृषि और ग्रामीण विकास के क्षेत्र में उच्च मापदंड कायम किया है। इस छोटे अवधि में सिक्किम खुद ब्राड बनकर भारतीय संघ का अनुकरण राज्य के रूप में प्रतिष्ठित बना है। यह केंद्र सरकार का निरंतर मार्गदर्शन और सहयोग के कारण हुआ है।

राज्यपाल ने अपने संदेश में नीति आयोग द्वारा डिजाइन किए गए विकास लक्ष्य सूची में सिक्किम को उच्च स्थान पर रखा गया है। कोविड-19 महामारी विरुद्ध सिक्किम सफल हुआ है इसके साथ ही वर्तमान सरकार गठन होने के बाद स्वास्थ्य क्षेत्र में महत्वपूर्ण परिवर्तन लाया है। उन्होंने उल्लेख किया है कि राज्य में 148 उपकेंद्र, 24 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, चार जिला अस्पताल एक बहु विशिष्ट अस्पताल के माध्यम से बुनियादी ढाचा, क्षमता निर्माण जनशक्ति नियोजन और व्यापक सेवा वितरण में सुधार लाया गया है। राज्यपाल ने वर्तमान सरकार के कार्यकाल में किए गए विभिन्न विकास कायरें का जिक्र भी किया है।

-------------

फोटो- सिक्किम के राज्यपाल गंगा प्रसाद (फाइल फोटो)

Edited By: Jagran