देवरिया, जागरण संवाददाता। Child Kidnapping Murder In Deoria: देवरिया जिले में तीस लाख रुपये फिरौती के लिए रिश्तेदार द्वारा बच्चे का अपहरण कर पोखरे में डुबो कर हत्या करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। बच्चे का शव मंगलवार को कुशीनगर जिले के रामपुर बुजुर्ग (हाटा थानाक्षेत्र) गांव के पोखरे में मिला। उसके हाथ-पैर बंधे थे। एसओजी व देवरिया सदर कोतवाली पुलिस की संयुक्त टीम ने मुख्य आरोपित रामपुर कारखाना थानाक्षेत्र के पिपरा मदनगोपाल गांव निवासी रिश्तेदार अजहरुद्दीन पुत्र राशिद को गिरफ्तार कर लिया।

यह है पूरा मामला

सदर कोतवाली थानाक्षेत्र के कृष्णानगर कालोनी निवासी ईद मोहम्मद उर्फ बकरीदन का सात वर्षीय पुत्र नासिर रविवार की सुबह लगभग दस बजे घर के बाहर खेल रहा था। उसी समय अजहरुद्दीन उसके पास पहुंचा और बहला- फुसलाकर बाइक से लेकर चला गया। स्वजन पूरे दिन उसकी तलाश करते रहे, लेकिन पता नहीं चला। सोमवार की देर शाम पिता ईद मोहम्मद ने अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया। अजहरुद्दीन, ईद मोहम्मद का रिश्तेदार है और कई दिनों से उनके घर पर ठहरा हुआ था। नासिर शहर के मालवीय रोड स्थित अंजुमन इस्लामिया में कक्षा एक में पढ़ता था।

30 लाख रुपये मांगी थी फिरौती

इस बीच मंगलवार की सुबह गोरखपुर रोड स्थित ओवरब्रिज के नीचे मजार के पास गुमटी पर 30 लाख रुपये फिरौती मांगने का पोस्टर चस्पा होने की जानकारी मजार के मौलाना के जरिये स्वजन को हुई तो उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने वहां लगे सीसी कैमरे की फुटेज को खंगाला तो सोमवार की रात आठ बजे एक सहयोगी के साथ पोस्टर चिपकाते अजहरुद्दीन दिख गया। इसी आधार पर पुलिस उस तक पहुंची और उसकी निशानदेही पर पोखरे से नासिर का हाथ-पैर बंधा हुआ शव बरामद किया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पानी में डुबोने से मौत होने की पुष्टि हुई है।

क्या कहती है पुलिस

एसपी देवरिया संकल्प शर्मा ने बताया कि मुख्य आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसकी निशानदेही पर बच्चे का शव कुशीनगर के रामपुर बुजुर्ग गांव स्थित पोखरे से बरामद किया गया है। दो अन्य युवकों से पूछताछ की जा रही है।

Edited By: Pragati Chand

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट