नई दिल्ली, एजुकेशन डेस्क। Best Courses for Class 12 Commerce Stream: आज से कुछ वक्त पहले तक कॉमर्स स्ट्रीम से 12वीं करने वाले स्टूडेंट्स के पास कुछ सीमित विकल्प ही होते हैं। ऐसा कहा जाता है कि ये स्टुूडेंट्स केवल सीए या सीएस जैसे विकल्प ही है, लेकिन वक्त बदला तो नए कोर्सेज भी बढ़े हैं। इसकी ही नतीजा है कि आज इस विषय से 12वीं करने वाले स्टूडेंट्स के पास ढेरों विकल्प हैं, जिन्हें चुनने के बाद वे करियर में बेहतर कर सकते हैं।

फाइनेंस प्लानर या एडवाइजर

फाइनेंस फील्ड भी एक अच्छा विकल्प है। इस क्षेत्र में फाइनेंस प्लानर या एडवाइजर के पद पर काम करने वालों की बड़ी अहम भूमिका होती है। एक वित्तीय सलाहकार, वह होता है जो व्यक्तियों को निवेश, कर, बीमा, स्टॉक, धन प्रबंधन से संबंधित सही निर्णय लेने और उनके वित्तीय लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद करता है। इसके अलावा, फाइनेंशियल प्लानर्स की सबसे ज्यादा जरूरत ऐसे लोगों को होती है, जिनका पैकेज बेहतर होता है और अपने फाइनेंस की देखरेख के लिए विशेषज्ञों की मदद चाहिए होती है। वित्तीय सलाहकार बनने के लिए आवश्यक न्यूनतम शिक्षा स्नातक की डिग्री है। इसके अलावा, लेखांकन और वित्तीय प्रबंधन के क्षेत्र में स्पेशल वाला कोई व्यक्ति भी इस फील्ड में आगे बढ़ा सकता है।

बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन

अगर आप बिजनेस की दुनिया में अपनी एक अलग पहचान बनानते चाहते हैं तो आपके लिए बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन आपके लिए एक बेहतर विकल्प है। दरअसल, हर कंपनी या फर्म में फाइनेंस, मार्केटिंग, ह्यूमन रिसोर्स जैसे कई डिपार्टमेंट होते हैं। इन सभी डिपार्टमेंट को सही ढंग से चलाने के लिए आपको इस पद की बारीकी सीखना अहम है। इसके बाद ही आप इन सभी डिपार्टमेंट को बेहतर तरीके से संभाल सकते हैं। इसलिए अगर आप चाहें तो आप इस फील्ड में आगे बढ़ सकते हैं।

मार्केटिंग मैनेजर

मार्केटिंग मैनेजर भी 12वीं पास कॉमर्स स्टूडेंट्स के लिए बेहतर भविष्य है। इस फील्ड में से जुड़े शख्स को मार्केटिंग और प्रमोशन की सही और सटीक रणनीति बनाना होता है। इसके अलावा, मार्केटिंग मैनेजर कस्टमर्स की उम्मीद को समझता है और उसी हिसाब से प्रोडक्ट तैयार करवाता है।

एलएलबी भी है बेहतर विकल्प

अगर आप 12वीं से कॉमर्स किया है और बिजनेस, फाइनेंस के छोड़कर आप कुछ अलग फील्ड में जाना चाहते हैं तो आपके लिए एलएलबी भी एक बेहतर विकल्प है। इसे भी आप 12वीं से कॉमर्स के बावजूद कर सकते है। LLB से पांच साल की डिग्री लेने के बाद आप बार काउंसिल ऑफ इंडिया से डिग्री प्राप्त करने के बाद लॉयर बन सकते हैं।

Edited By: Nandini Dubey