संवाद सहयोगी, फिरोजपुर : कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए पूर्व खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढ़ी ने रविवार को हर घर तिरंगा पहुंचाने के लिए बाइक रैली निकाली। बिना सुरक्षा के बाजारों से होते हुए राणा सोढी ने तिरंगे बांटे और शहर वासियों को आजादी के महोत्सव में योगदान डालने की प्रेरणा दी।

इस दौरान तिरंगा लेकर हजारों की संख्या में बाइक सवारों ने रैली निकाली। छावनी के चौक रोड से शुरू हुई यह रैली शहर के विभिन्न बाजारों से होती हुई उधम सिंह चौक पर आकर पूरी हुई। बाइक पर सवार होकर राणा सोढ़ी ने हाथ में तिरंगा पकड़ देश की अखंडता, भाईचारे, प्यार, अमन-शांति का संदेश दिया। सोढ़ी ने कहा देश को आजाद हुए 75 साल हो गए हैं, सभी को चाहिए कि इस स्वतंत्रता दिवस को हर्षोल्लास के साथ मनाएं और अपने घरों दुकानों व कार्यालय में एक तिरंगा जरूर फहराएं। ये देश का महोत्सव है। इस बार पूरे देश में तिरंगे की बयार बह रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार द्वारा अनेकों मानवता की भलाई के कार्य किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि फिरोजपुर के विकास तथा तरक्की के लिए उनके द्वारा आए दिन केंद्रीय मंत्रियों से मुलाकात का दौर जारी है और जल्द ही फिरोजपुर में पीजीआइ की सौगात लेकर आएंगे।

अमृत महोत्सव के तहत निकाली साइकिल रैली संवाद सहयोगी, फिरोजपुर :

स्वतंत्रता के 75वें अमृत के तहत मयंक फाउंडेशन की ओर से रविवार को सेना के सहयोग से साइकिल रैली का आयोजन किया, जिसमें 75 पेडलर्स शामिल हुए।

रैली बरकी मेमोरियल से शुरू हुई और हुसैनीवाला स्मारक पर पहुंच बलिदानियों को श्रद्धांजलि दीगई, जिसके बाद रैली सारागढ़ी स्मारक पर समाप्त हुई। रैली में सेना के अधिकारियों व जवानों, महिलाओं व बच्चों सहित मयंक फाउंडेशन के सदस्यों के अत्यधिक प्रेरित दल ने भावनात्मक रूप से भरे माहौल के बीच भारत माता की जय, वंदे मातरम व इंकलाब जिदाबाद के नारे लगाए। मयंक फाउंडेशन के अध्यक्ष डा. अनिरुद्ध गुप्ता ने सभी प्रतिभागियों को उनके सक्रिय सहयोग के लिए धन्यवाद किया और अन्य सभी प्रतिभागियों के साथ राष्ट्र निर्माण, और स्वतंत्रता सेनानियों के सपनों को साकार करने के लिए शांति और सांप्रदायिक सद्भाव के लिए अथक प्रयास करने और भारत को एक आर्थिक महाशक्ति बनाने का संकल्प लिया। इस मौके पर वरिष्ठ उपाध्यक्ष डा. गजलप्रीत अरनेजाने कहा कि साइकिल चलाने से जहां हम सभी शारीरिक रूप से फिट रहते हैं, वहीं हुसैनीवाला जाने से मन में भी देशभक्ति की भावना पैदा होती है और आज भारतीय फौज का आयोजन में सहयोग होना हमारे लिए बहुत गौरवशाली क्षण हैं। इस अवसर पर वरिष्ठ सेना अधिकारियों व जवानों के अलावा डा. अश्वनी कालिया, डा. आकाश अग्रवाल, एडवोकेट अविनाश गुप्ता, अमन शर्मा, एडवोकेट डा. रोहित गर्ग, एडवोकेट गौरव नंदराजोग व मयंक फाउंडेशन के सदस्य मौजूद रहे।

Edited By: Jagran