बिकौरा बाबा को भोग लगा कराया गया भंडारा

संवाद सूत्र, खप्टिहा कला: सिद्धपीठ बिकौरा बाबा के मंदिर में पूजा-अर्चना कर आदि देव को भोग लगाकर भंडारे का आयोजन किया गया। यहां सबसे पहले कन्याओं को भोज कराया गया। जिसके बाद सभी ने प्रसाद ग्रहण किया। सिद्धपीठ में वर्ष 1995 से प्रतिवर्ष ग्रामीणों द्वारा भंडारे का आयोजन किया जाता है। ग्रामीणों का कहना है कि एक दिन पूर्व ही भंडारे की तैयारी शुरू हो जाती है। जिसमें महिलाएं व पुरुष सभी शामिल होते हैं। भगवान को भोग लगाने के लिए खीर, पूड़ी व सब्जी तैयार की जाती है। सबसे पहले प्रभु को भोग लगाते हैं। उसके बाद कन्याओं को भोज कराकर भंडारा प्रारंभ किया जाता है। भंडारे के बाद रात्रि में महोबा से आई दीक्षा यादव व प्रतीक्षा यादव द्वारा आल्हा गायन का आयोजन किया गया। रामअवतार यादव, रामकुमार, ओमप्रकाश पाल, रामबाबू, रमेश यादव, मोनू अवस्थी, नीरज दुवेदी, नीरज पाल आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran