जागरण संवाददाता, बोकारो: सेवानिवृत्‍त आइपीएस अधिकारी सह झारखंड स्‍टेट क्रिकेट एसोसिएशन (जेएससीए) के पूर्व सचिव अमिताभ चौधरी का मंगलवार की सुबह निधन हो गया। रांची स्थित आवास में सीढ़ी से फिसलकर गिरने के बाद उन्‍हें दिल का दौरा पड़ा, जिससे उनकी मौत हो गई।

उनके निधन ने ना सिर्फ झारखंड क्रिकेट बल्कि बोकारो की उम्‍मीदों को भी गहरा झटका लगा है। अमिताभ चौधरी ने बोकारो में अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍तर के स्‍टेडियम के निर्माण का सपना दिखाया था। स्‍टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया (सेल) से इसके लिए जमीन भी दिलवाई थी। कहा जा रहा था कि अगले महीने यहां स्‍टेडियम का शिलान्‍यास होगा, लेकिन उससे पहले ही अमिताभ चौधरी के निधन से यहां के खेल प्रेमियों को गहरा आघात पहुंचा है।

बोकारो में ही हराया था गृह मंत्री सुदेश महतो को

मूल रूप से बिहार के दरभंगा के रहने वाले अमिताभ चौधरी झारखंड लोक सेवा आयोग के अध्‍यक्ष और बीसीसीआइ के संयुक्त सचिव भी रह चुके थे। बोकारो से उनका गहरा नाता रहा। यहां उन्‍होंने लॉर्ड्स व राजकोट से भी बेहतर क्रिकेट स्टेडिमय बनाने का सपना लोगों को दिखाया था। पहली बार 2002 में वह बीसीसीआइ के सदस्य बने। 2005 में झारखंड क्रिकेट एसोसिएशन का चुनाव हुआ तो अमिताभ चौधरी ने एक आइपीएस अधिकारी के रूप में चुनाव लड़ा। वह भी अपने ही राज्‍य के गृह मंत्री सुदेश महतो के विरोध में। राजनीतिक दबाव को दरकिनार करते हुए चौधरी हमेशा अपनी अलग राह बनाते रहे। इस चुनाव में उन्‍होंने सुदेश महतो को बुरी तरह पराजित किया।

बीते दिनों बोकारो विधायक बिरंची नारायण की पहल पर अमिताभ चौधरी बोकारो में क्रिकेट स्टेडियम बनाने के लिए राजी हुए। काफी जद्दोजहद के बाद अमिताभ चौधरी व बोकारो विधायक की संयुक्त पहल पर स्टेडियम के लिए सेल से बीस एकड़ जमीन भी मिल गई, पर स्‍टेडियम के शिलान्यास से पहले ही उनका निधन हो गया।

झारखंड में क्रिकेट को आगे बढ़ाने में रहा अहम योगदान

बिहार व झारखंड के विभाजन के बाद वर्षों तक बिहार क्रिकेट एसोसिएशन को मान्यता नहीं मिली, जबकि इसी कालखंड में अमिताभ चौधरी की पहल पर झारखंड क्रिकेट एसोसिएशन को शुरू से मान्यता मिली। जमशेदपुर स्थित कीनन स्टेडियम के खेल को रांची तक पहुंचाया। उन्‍हीं का प्रयास रहा कि पिछले 10 वर्ष में बोकारो के तीन खिलाड़ियों ने अंडर 19 भारतीय टीम में स्थान सुनिश्चित किया। वर्तमान में बोकारो की इंद्राणी राय भारतीय महिला क्रिकेट टीम के लिए खेल रही हैं।

Edited By: Deepak Kumar Pandey