मायके आकर पति ने महिला को दे दिया तीन तलाक

जागरण संवाददाता, कन्नौज : दहेज में एक लाख रुपये व बाइक न मिलने पर पति ने मायके आकर पत्नी को तीन तलाक दे दिया। इससे पहले ससुराल वालों ने महिला को प्रताड़ित कर घर से निकाल दिया था। पुलिस ने तीन तलाक अधिनियम के अंतर्गत पति समेत नौ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

सदर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम बछरजापुर निवासी रुखसार ने बताया कि उसकी शादी पांच मई 2014 को जनपद मैनपुरी के किशनी थाना क्षेत्र के ग्राम ढढ़ौसा कुसमरा निवासी सुलेमान उर्फ भूरा के साथ हुई थी। शादी के बाद दहेज में एक लाख रुपये व बाइक की मांग को लेकर पति सुलेमान, ससुर अशफाक, सास मुन्नी, जेठ मोहम्मद सलीम व असरुद्दीन उर्फ चांद, जेठानी सबाना, देवर सद्दाम हुसैन, सुलेमान का बहनोई निसार अली व चचिया ससुर इस्लाम अली उसके साथ मारपीट करने लगे। कई बार इन लोगों ने उसे घर से निकाल दिया। इसके बाद पीड़ि़ता ने न्यायालय में भरण-पोषण का मुकदमा कर दिया, जिसमें ससुराल वालों ने सुलह कर ली। इसके बाद भी उनका रवैया नहीं बदला और बाद में मारपीट कर फिर घर से निकाल दिया। दस अगस्त को उसके ससुराल वाले मायके ग्राम बछरजापुर आए और दहेज की मांग करते हुए उसे लात-घूंसों से पीट दिया। इसके बाद पति सुलेमान ने उसे तीन तलाक दे दिया। आरोपितों ने उसे धमकी दी कि जब तक दहेज नहीं लाओगी, तब तक घर में घुसने नहीं दिया जाएगा। कार्यवाहक प्रभारी निरीक्षक जितेंद्रपाल सिंह ने बताया कि पीड़ि़ता की तहरीर के आधार पर दहेज उत्पीड़न अधिनियम व तीन तलाक अधिनियम के अंतर्गत मुकदमा दर्ज किया है। आरोपितों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran