नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। वैश्विक संकेतों के नकारात्मक रहने के कारण आज सूचकांक सपाट खुले। आईटी इंडेक्स में खुलते ही गिरावट आई, लेकिन अन्य सेक्टर लगभग सपाट कारोबार कर रहे हैं। एसबीआई लाइफ, टीसीएस और कोटक बैंक शेड, जबकि एलएंडटी और इंडसइंड बैंक के शेयरों में आज कमजोरी देखी जा रही है। सेंसेक्स 44.54 अंक या 0.07% नीचे 62366.14 पर और निफ्टी 12.70 पॉइंट या 0.07% नीचे 18547.80 पर खुला। लगभग 1390 शेयरों में तेजी आई, 631 शेयरों में गिरावट आई और 123 शेयरों में कोई बदलाव नहीं हुआ।

आज ही शुरू करें अपना शेयर मार्केट का सफर, विजिट करें- https://bit.ly/3n7jRhX

हिमाचल प्रदेश और गुजरात के विधानसभा चुनाव के नतीजों के बीच आईटी और एफएमसीजी शेयरों में गिरावट से सुबह के कारोबार में बेंचमार्क इक्विटी सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी में लगभग सपाट कारोबार हुआ। पहले सत्र के बाद बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में 28.87 अंक या 0.05 प्रतिशत की मामूली बढ़त के साथ 62,439.55 अंक पर पहुंच गया। इसके 16 घटकों में लाभ हुआ, जबकि 14 में गिरावट आई।

टॉप लूजर्स और गेनर्स

निफ्टी पर लार्सन एंड टुब्रो, आयशर मोटर्स, बजाज फिनसर्व, एमएंडएम और अपोलो अस्पताल प्रमुख लाभ में थे, जबकि हारने वालों में कोटक महिंद्रा बैंक, एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस, टाटा मोटर्स, एचडीएफसी लाइफ और टीसीएस शामिल थे।

सेंसेक्स के प्रमुख शेयरों में इंडसइंड बैंक में एक प्रतिशत, एक्सिस बैंक में 0.91 प्रतिशत और आईसीआईसीआई बैंक में 0.95 प्रतिशत की तेजी रही। एसबीआई, महिंद्रा एंड महिंद्रा, एलएंडटी, नेस्ले, अल्ट्राटेक सीमेंट, मारुति और रिलायंस भी आगे बढ़े। वहीं कोटक बैंक, एचयूएल, टीसीएस, टेक महिंद्रा, इंफोसिस, पावर ग्रिड, एशियन पेंट्स, सन फार्मा, डॉ रेड्डीज और विप्रो में गिरावट रही।

बाकी इंडेक्स का हाल

आज कारोबार में आईटी इंडेक्स गिरा, जबकि पीएसयू बैंक मजबूत बना हुआ है। अस्थिर व्यापार और मंदी की आशंका के बीच बुधवार को वॉल स्ट्रीट के ज्यादातर शेयर गिरावट के साथ बंद हुए। एशियाई शेयर गिरावट के साथ कारोबार कर रहे हैं। अमेरिका में अगले सप्ताह जारी होने वाले महंगाई डाटा और नीतिगत दरों के निर्णयों पर निवेशकों ने बारीकी से नजर रखी हुई है। यह निवेशकों के बीच झिझक को दर्शाती है। इस बीच चीन के व्यापार डाटा ने नवंबर में तेज गति से निर्यात और आयात का रिकॉर्ड दर्ज किया, जिससे व्यापारियों के बीच मंदी का डर मजबूत हो गया।

कैसी है रुपये की हालत

कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट और एशियाई समकक्षों के मुकाबले रुपया गुरुवार को शुरुआती कारोबार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 19 पैसे बढ़कर 82.28 पर पहुंच गया। विदेशी मुद्रा व्यापारियों ने कहा कि घरेलू इक्विटी और विदेशी फंड के बहिर्वाह का रुपये पर दबाव पड़ा। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा में रुपया डॉलर के मुकाबले 82.34 पर खुली, फिर पिछले बंद भाव के मुकाबले 19 पैसे की बढ़त दर्ज करते हुए 82.28 पर पहुंच गया। बुधवार को रुपये ने शुरुआती नुकसान को कम किया और अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 82.47 पर मामूली रूप से बंद हुआ।

जानें मार्केट के Top 5 स्टॉक्स जो देंगे शानदार रिटर्न्स - https://bit.ly/3RxtVx8

ये भी पढ़ें-

क्या होता है रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट? इसका आप पर क्या होता है असर

स्टॉक मार्केट में इन्वेस्टमेंट या ट्रेडिंग करना चाहते हैं तो समझ लें Demat और Trading Account

 

Edited By: Siddharth Priyadarshi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट