मुंबई, एजेंसियां। मुंबई में लंबे अंतराल के बाद दक्षिण-पश्चिम मानसून फिर से सक्रिय हो गया है, जिससे शहर और आसपास के इलाकों में भारी बारिश हुई और भूस्खलन की खबर भी सामने आयी है। रात भर हुई भारी बारिश के बाद कई निचले इलाके भी जलमग्न हो गए। आईएमडी की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि सोमवार रात से नवी मुंबई, ठाणे और आसपास के अन्य क्षेत्रों में 20 मिमी से 70 मिमी के बीच बारिश हुई। बता दें कि भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने पहले ही चेतावनी देते हुए कहा था कि मुंबई में मंगलवार को मध्यम से तीव्र बारिश की संभावना है। मुंबई के क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र ने अगले 24 घंटों के दौरान शहर और उपनगरों में मध्यम बारिश के साथ अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश की संभावना जताई है।

आईएमडी ने ट्वीट का कहा है कि "विदर्भ के पश्चिमी हिस्सों में कम दबाव के क्षेत्र के कारण, मुंबई और इसके उपनगरों में अगले 24 घंटों के दौरान बारिश जारी रहेगी और अधिकांश स्थानों पर मध्यम बारिश हो सकती है जबकि कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा (15 सेमी से कम) हो सकती है।"

 गौरतलब है कि मौसम विभाग के अनुसार अगले तीन से चार दिन तक राज्‍य के कई हिस्‍सों में तेज मूसलाधार बारिश होगी। राज्‍य के मुंबई, ठाणे, उत्तर कोंकण में जोरदार बरसात होने का अनुमान है। आईएमडी का ये भी कहना है कि पिछले तीन-चार दिनों से राज्य में रिमझिम बारिश हो रही थी, लेकिन अब तेज बरसात होगी। बता दें कि छत्तीसगढ़ में कम दबाव का क्षेत्र तैयार होने के कारण उसका प्रभाव महाराष्ट्र में पड़ने का अनुमान जताया गया है। मुंबई समेत ठाणे, पालघर, मराठवाडा, कोंकण, विदर्भ, मध्य महाराष्ट्र के उत्तरी हिस्से में खूब बारिश होगी। मौसम विभाग के अनुसार कुल 18 जिलों में जोरदार बारिश होने का अनुमान है।

Edited By: Babita Kashyap