Move to Jagran APP

राज ठाकरे को झटका, इस कद्दावर नेता ने छोड़ा पार्टी का साथ; शिवसेना का थामा दामन

महाराष्ट्र के पुणे नगर निगम में नेता विपक्ष रह चुके पार्षद वसंत मोरे शिवसेना में शामिल हो गए हैं। इस दौरान शिवसेना (यूबीटी) प्रमुख उद्धव ठाकरे ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। उन्होंने कहा है मोरे ने वंचित बहुजन अघाड़ी (वीबीए) के उम्मीदवार के रूप में पुणे सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा लेकिन असफल रहे। अब लोकसभा चुनावों के बाद उन्होंने ये फैसला लिया है।

By Agency Edited By: Shubhrangi Goyal Tue, 09 Jul 2024 04:11 PM (IST)
राज ठाकरे को झटका, इस कद्दावर नेता ने छोड़ा पार्टी का साथ; शिवसेना का थामा दामन
उद्धव ठाकरे ने पार्टी कार्यकर्ताओं को किया संबोधित (फाइल फोटो)

पीटीआई, मुंबई। महाराष्ट्र में राजनीतिक नेता वसंत मोरे शिवसेना में शामिल हुए। इस दौरान शिवसेना (यूबीटी) प्रमुख उद्धव ठाकरे ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। बता दें कि वसंत मोरे महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) में थे। अब औपचारिक रूप से शिव सेना में शामिल हो गए हैं। उद्धव ठाकरे ने संबोधन के दौरान कहा, आगामी विधानसभा चुनाव विश्वासघात के खिलाफ और महाराष्ट्र के स्वाभिमान की लड़ाई होगी।

उन्होंने आगे कहा, मोरे ने वंचित बहुजन अघाड़ी (वीबीए) के उम्मीदवार के रूप में पुणे सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा, लेकिन असफल रहे। इस सीट से बीजेपी के मुरलीधर मोहोल ने कांग्रेस उम्मीदवार रवींद्र धांगेकर को हराया। अब लोकसभा चुनावों के बाद वसंत मोरे ने ये फैसला किया है।

'महाराष्ट्र के आत्मसम्मान की लड़ाई होगी'

ठाकरे ने कहा कि पुणे शहर को अब राज्य में सत्ता परिवर्तन का केंद्र होना चाहिए। उन्होंने कहा, लोकसभा चुनाव संविधान को बचाने की लड़ाई थी। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, 'विधानसभा चुनाव विश्वासघात और लाचारी के खिलाफ होगा। यह महाराष्ट्र के आत्मसम्मान की लड़ाई होगी।'

वह दो साल पहले अविभाजित शिवसेना में एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में पार्टी विधायकों द्वारा किए गए विद्रोह का जिक्र कर रहे थे, जो बाद में मुख्यमंत्री बने। बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव इस साल अक्टूबर में होने वाले हैं।