मुंबई, प्रेट्र। Maharashtra: मुंबई रेल यातायात में उस समय अफरातफरी की स्थिति पैदा हो गई, जब गुरुवार तड़के अंधेरी और जोगेश्वरी स्टेशनों के बीच बांद्रा टर्मिनस-रामनगर एक्सप्रेस का सबसे पिछला एलएचबी (लिंके होफमैन बुश) कोच ट्रेन से अलग हो गया। इससे काफी देर तक रेल यातायात प्रभावित रहा। इस घटना में किसी यात्री के घायल होने की सूचना नहीं है, पर उपनगरीय नेटवर्क पर सैकड़ों यात्रियों को असुविधा हुई। रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि ट्रेन उत्तर प्रदेश के रामनगर के लिए सुबह पांच बजकर 10 मिनट पर बांद्रा टर्मिनस से रवाना हुई थी और उसे सुबह पांच बजकर 55 मिनट पर बोरीवली पहुंचना था, लेकिन वह इस घटना के कारण सुबह सात बजकर तीन मिनट पर वहां पहुंची।

पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी सुमित ठाकुर ने बताया कि ट्रेन का यह सबसे पिछला डिब्बा खाली था और उसे आगामी स्टेशन से खोला जाना था। उन्होंने बताया कि डिब्बे को ट्रेन से पुन: जोड़ा गया और ट्रेन ने सुबह छह बजकर 40 मिनट पर आगे की यात्रा शुरू की। गौरतलब है कि इसके बाद यह कोच सात बजकर 17 मिनट पर नायगांव और वसई रोड स्टेशन के बीच फिर अलग हो गया। इस कोच को फिर नहीं जोड़ा गया और उस कोच के बगैर ही ट्रेन को आगे रवाना किया गया। बाद में उसे एक दूसरे इंजन की मदद से वसई रोड यार्ड लाया गया। अधिकारी ने बताया कि इस घटना के कारण पश्चिम लाइन पर उपनगरीय ट्रेनें 10 से 15 मिनट के विलंब से चल रही हैं।

गौरतलब है कि दिल्ली सहित एनसीआर के अन्य शहरों में अब सभी कार्यालय और औद्योगिक इकाइयों में काम शुरू हो गया है, लेकिन लोकल ट्रेनों का परिचालन अभी तक शुरू नहीं हुआ है। लोकल ट्रेनें नहीं चलने से एक से दूसरे शहर में काम-काज के लिए आने-जाने वाले लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। लोगों का कहना है कि मुंबई में लोकल ट्रेनें चल सकती हैं, तो दिल्ली के यात्रियों को इससे क्यों वंचित रखा जा रहा है। मेट्रो का भी परिचालन शुरू हो गया है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021