Move to Jagran APP

NEET-UG पेपर लीक मामले में CBI को मिली बड़ी सफलता, एक और आरोपित महाराष्ट्र से हुआ गिरफ्तार

नीट पेपर लीक मामले को लेकर केंद्रीय जांच एजेंसी की टीम महाराष्ट्र के लातूर में कार्रवाई कर रही है। इस मामले में सीबीआई को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। पेपर लीक मामले में जांच एजेंसी ने सोमवार को महाराष्ट्र के लातूर से एक आरोपित को गिरफ्तार किया है।आरोपित की पहचान नंजुनेथप्पा जी के रूप में हुई है।नीट-यूजी पेपर लीक मामले में सीबीआइ द्वारा की गई यह नौवीं गिरफ्तारी है।

By Agency Edited By: Babli Kumari Mon, 08 Jul 2024 11:45 PM (IST)
NEET-UG पेपर लीक मामले में CBI को मिली बड़ी सफलता, एक और आरोपित महाराष्ट्र से हुआ गिरफ्तार
नीट-यूजी 2024 पेपर लीक मामले की जांच में सीबीआइ को मिली सफलता (फाइल फोटो)

पीटीआई, नई दिल्ली। मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट-यूजी 2024 पेपर लीक मामले की जांच कर रही सीबीआइ को बड़ी सफलता मिली है। जांच एजेंसी ने सोमवार को महाराष्ट्र के लातूर से एक आरोपित को गिरफ्तार किया है। अधिकारियों ने बताया कि आरोपित नंजुनेथप्पा जी को नीट-यूजी में हेराफेरी के मामले में गिरफ्तार किया गया है।

नीट-यूजी पेपर लीक मामले में सीबीआइ द्वारा की गई यह नौवीं गिरफ्तारी है। उन्होंने बताया कि लातूर के दो सरकारी स्कूल के शिक्षकों ने नीट-यूजी अभ्यर्थियों से परीक्षा में उनकी सफलता सुनिश्चित करने के लिए पांच लाख रुपये से अधिक की मांग की थी।

बिहार से पेपर लीक मामले में छह लोगों को किया गिरफ्तार 

उन्होंने कहा कि सीबीआइ ने अब तक बिहार से पेपर लीक मामले में छह लोगों को गिरफ्तार किया है और लातूर और गोधरा में हेराफेरी के मामले में एक-एक और सामान्य साजिश के सिलसिले में देहरादून से एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है।

मामले में सीबीआइ ने छह एफआइआर दर्ज की

पांच मई को आयोजित परीक्षा में बड़े पैमाने पर विवाद के बाद केंद्र ने सीबीआइ से मामले की जांच करने को कहा था। मामले में सीबीआइ ने छह एफआइआर दर्ज की हैं। बिहार की एफआइआर पेपर लीक से संबंधित है, जबकि गुजरात, राजस्थान और महाराष्ट्र की शेष एफआइआर धोखाधड़ी से संबंधित हैं।

यह भी पढ़ें- Maharashtra Politics: शरद पवार की पार्टी को मिली चंदा लेने की अनुमति, चुनाव आयोग से प्रतिनिधिमंडल ने की थी मुलाकात