मुंबई, प्रेट्र। महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री आदित्य ठाकरे को कथित तौर पर धमकी देने वाले एक व्यक्ति को मुंबई पुलिस ने बेंगलुरु से गिरफ्तार कर लिया। राज्य सरकार ने गुरुवार को इस मामले की जांच के लिए विशेष जांच दल (एसआइटी) गठित करने की घोषणा की थी। एसआइटी को ठाकरे तथा अन्य विधायकों को मिली धमकियों की जांच का जिम्मा सौंपा गया है। उसे दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत का फैन बताया जा रहा है। महाराष्ट्र विधानसभा में इस बात की जानकारी देते हुए राज्य के गृह मंत्री दिलीप वालसे पाटिल ने बताया कि आदित्य ठाकरे को धमकी देनेवाले व्यक्ति की पहचान जयसिंह राजपूत के रूप में हुई है। उसे मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच ने कर्नाटक में पकड़ा और मुंबई लेकर आई।

मंत्री को भेजे धमकी भरे संदेश

इससे पहले एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि जयसिंह ने आदित्य ठाकरे को आठ दिसंबर को फोन किया, लेकिन उन्होंने उसका फोन नहीं उठाया। इसके बाद उसने मंत्री को धमकी भरे संदेश भेजने शुरू किए। आदित्य को मिले धमकी भरे संदेश की जब जांच की गई तो साइबर पुलिस को पता चला कि ये संदेश कर्नाटक के बेंगलुरु से भेजे गए। इसके बाद टीम को बेंगलुरु भेजा गया जहां से उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उसे अदालत में पेश किया गया जहां से उसे पुलिस हिरासत में सौंप दिया गया। पूछताछ के दौरान धमकी देने वाला अहम खुलासा कर सकता है। गौरतलब है कि आदित्य ठाकरे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के पुत्र हैं तथा राज्य के पर्यावरण एवं पर्यटन मंत्री हैं।

इस मामले को लेकर राजनीति शुरू

आदित्य ठाकरे को धमकी भरे फोन और संदेश को लेकर महाराष्ट्र में राजनीति शुरू हो गई। शिवसेना विधायक सुनील प्रभु तथा एनसीपी नेता नवाब मलिक के आरोपों के बाद पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने कहा कि वह आदित्य को मिली धमकी की निंदा करते हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि मलिक इस मामले का राजनीतीकरण कर रहे हैं।

Edited By: Sachin Kumar Mishra