Move to Jagran APP

MP News: पत्नी को सादा जीवन जीने के लिए कहता था पति, महिला ने नाराज होकर लगा ली फांसी; ये है पूरा मामला

संत रामपाल से पति ने दीक्षा क्या ली उसने स्वयं सारे व्यसन त्याग दिए और पत्नी को भी सादा जीवन जीने के लिए कहने लगा। नाराज पत्नी ने फांसी लगाकर जान दे दी। यह मामला सागर जिले के बीना कस्बा का है। शुक्रवार को दोपहर बीना में शिवाजी वार्ड निवासी रिया पत्नी दीपक वाल्मीकि 26 वर्ष ने अपने ही घर में फांसी लगाकर जान दे दी।

By Jagran News Edited By: Jeet Kumar Sun, 23 Jun 2024 02:00 AM (IST)
पत्नी को सादा जीवन जीने के लिए कहता था पति, महिला ने नाराज होकर लगा ली फांसी

जेएनएन, सागर। संत रामपाल से पति ने दीक्षा क्या ली, उसने स्वयं सारे व्यसन त्याग दिए और पत्नी को भी सादा जीवन जीने के लिए कहने लगा। नाराज पत्नी ने फांसी लगाकर जान दे दी। यह मामला सागर जिले के बीना कस्बा का है। शुक्रवार को दोपहर बीना में शिवाजी वार्ड निवासी रिया पत्नी दीपक वाल्मीकि 26 वर्ष ने अपने ही घर में फांसी लगाकर जान दे दी।

शव को फंदे से उतारकर पति सहित अन्य लोगों द्वारा पुलिस को सूचना दी गई। देर शाम होने के कारण रात्रि में पोस्टमार्टम नहीं किया गया। सुबह जबलपुर से मृत महिला के स्वजन बीना पहुंचे और पुलिस थाने पहुंचकर पूरे मामले की जानकारी दी।

शृंगार नहीं करने के लिए दबाव बनाता था पति

स्वजन ने कहा कि जब से उनके दामाद दीपक वाल्मीकि ने संत रामपाल से गुरु दीक्षा ले ली थी, तब से सारे व्यसन छोड़ दिए थे। स्वयं मांसाहार सहित अन्य व्यवसनों से दूरी बना ली थी और पत्नी को भी सादा जीवन जीने के लिए कहता था। सलवार सूट में रहने तथा शृंगार नहीं करने के लिए दबाव बनाता था। जिससे परेशान होकर कुछ समय पूर्व पत्नी अपने मायके जबलपुर चली गई थी।

19 तारीख को पति दीपक और मामा जबलपुर आए और रिया को अपने साथ लेकर वापस आ गए थे। उनका तीन साल का एक बेटा भी है। इसके बाद हमें सूचना मिली कि रिया ने जान दे दी। सूचना पर नायब तहसीलदार हेमराज मेहर अस्पताल पहुंचे और उन्होंने दोनों पक्षों से बात कर जांच का आश्वासन दिया।