छिंदवाड़ा, जागरण ऑनलाइन डेस्क। पूरा देश सोमवार को जहां स्वतंत्रता दिवस धूमधाम से मना रहा था वहीं दूसरी ओर छिंदवाड़ा (Chhindwara) से दमुआ मार्ग (Damua Road) पर डूंगरिया के पास सड़क से गिरी चट्टान को हटाने में चौकी प्रभारी व पुलिस के जवान जुटे हुए थे।

भूस्खलन से सड़क पर गिरे पत्थरों से जाम की स्थिति बनने लगी तो जुन्नारदेव थाना अंतर्गत डूंगरिया चौकी ने छेनी और हथौड़े (chisel hammer) मंगवाकर अपने पुलिस कर्मियों के साथ मिलकर पत्‍थरों को तोड़ते हुए रास्‍ते से हटाया और रास्ता बहाल किया। अब चौकी प्रभारी द्वारा पत्‍थर तोड़ने का वीडियो वायरल होने पर पुलिस की जमकर तारीफ हो रही है।

मुख्य मार्ग पर जाम की स्थिति

मिली जानकारी के अनुसार दमुआ से आगे डूंगरिया रोड पर भूस्खलन के कारण स्वतंत्रता दिवस के दिन एक बड़ी चट्टान सड़क पर गिर गई थी। जिससे मुख्य मार्ग पर लगभग जाम की स्थिति बनी रही। जिसकी सूचना मिलने पर डूंगरिया चौकी प्रभारी एएसआई सुरेंद्र यादव अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे।

जब पीडब्ल्यूडी कर्मचारी नहीं मिले तो उन्होंने खुद अपने साथी पुलिस कर्मियों के साथ सड़क पर पड़ी बड़ी चट्टान को हटाने की कार्य योजना बनाई। फौरन छेनी और हथौड़े मंगवाए और मजदूर की तरह पत्थर को छेनी और हथौड़े से तोड़ा, जिसके बाद पत्थर को सड़क के किनारे ले जाया गया।

वीडियो इंटरनेट मीडिया में वायरल

इस सराहनीय कार्य का वीडियो इंटरनेट मीडिया में वायरल हुआ जिसमें साफ दिखाई दे रहा है कि कैसे चौकी प्रभारी सड़क पर भूस्खलन के कारण गिरे पत्थरों को तोड़ रहे हैं। कुछ घंटों की कड़ी मशक्कत के बाद बड़ी चट्टान को तोड़कर रास्ते से अलग कर दिया गया।

चौकी प्रभारी की भी तारीफ

इंटरनेट मीडिया पर ये वीडियो खूब वायरल हो रहा है। चौकी प्रभारी की भी तारीफ की जा रही है कि वह चाहते तो पुलिस आरक्षकों को पत्थर तोड़कर किनारे करने का आदेश दे सकते थे, लेकिन वह खुद उनके साथ लगे रहे और हथौड़े मार कर पत्‍थर तोड़ने में कामयाब रहे।

24 घंटे तैनात रहते हैं पुलिसकर्मी

जिले में भारी बारिश के चलते पहाड़ी इलाकों में ऐसी घटनाएं सामने आती हैं, जिस दौरान पुलिस के जवान हमेशा अलर्ट पर रहते हैं। पुलिस कर्मी बारिश के दौरान अपने-अपने क्षेत्रों में ऐसे स्थानों पर ड्यूटी कर रहे हैं जहां पुल की पुलिया से पानी बह रहा है, किसी भी अप्रिय घटना को देखते हुए पुलिस कर्मियों को 24 घंटे तैनात किया जाता है।

Edited By: Babita Kashyap