Move to Jagran APP

Sagar News: मारपीट की जांच करने गए चौकी प्रभारी पर हमला, डॉक्टरों ने गंभीर हालत में सागर रेफर किया

सागर के मालथौन थाना क्षेत्र के गंभीरिया गांव में मारपीट के बाद मौका मुआयना करने पहुंचे नौनिया चौकी प्रभारी पर आरोपितों ने हमला कर दिया। चौकी प्रभारी को गंभीर चोटें आई हैं जिन्हें मालथौन से सागर रेफर कर दिया गया है। वहीं गांव में पुलिस बल को तैनात किया गया है। हमले के बाद आरोपित घर और गांव छोड़कर भाग गए हैं।

By Jagran News Edited By: Abhinav Atrey Published: Tue, 11 Jun 2024 06:00 AM (IST)Updated: Tue, 11 Jun 2024 06:00 AM (IST)
नौनिया चौकी प्रभारी के रूप में पदस्थ हैं घायल एसआई आरके जोरम। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जेएनएन, सागर। मालथौन थाना क्षेत्र के गंभीरिया गांव में मारपीट के बाद मौका मुआयना करने पहुंचे नौनिया चौकी प्रभारी पर आरोपितों ने हमला कर दिया। चौकी प्रभारी को गंभीर चोटें आई हैं, जिन्हें मालथौन से सागर रेफर कर दिया गया है। वहीं गांव में पुलिस बल को तैनात किया गया है। हमले के बाद आरोपित घर और गांव छोड़कर भाग गए हैं।

मालथौन थाना प्रभारी योगेंद्र दांगी ने बताया कि रविवार की रात गंभीरिया गांव निवासी जितेंद्र ने पुष्पेंद्र लोधी के साथ घर में घुसकर मारपीट की थी, जिसके बाद पुलिस ने जितेंद्र पर गंभीर धाराओं के तहत मामला कायम कर विवेचना शुरू की। सोमवार शाम नोनिया पुलिस चौकी प्रभारी उप निरीक्षक आरके जोरम गांव में विवेचना के लिए गए हुए थे। उनके साथ पुलिस की गाड़ी का चालक व एक पुलिसकर्मी भी था।

एसआई जोरम ने आरोपित को गाली देने से मना किया

जब चौकी प्रभारी अपना काम कर रहे थे, तभी वहां पर आरोपित भी आ गया और गालीगलौज करने लगा। एसआई जोरम ने आरोपित को गाली देने से मना किया तो उसने उन पर हमला कर दिया। इस दौरान आरोपित के साथ उसके पिता हनुमत, मां रूपमति, बहन निधि भी वहां आ गए और वह भी एसआई जोरम के साथ लिपट पड़े और वहां से खींचकर उसे अपने घर ले गए, जहां उन्होंने पुलिस अधिकारी के सिर पर हमला कर दिया, जिसमें वह लहूलुहान हो गए।

पुलिस ने आरोपितों से खुद को छुड़ा कर अपनी जान बचाई

इसके बाद जैसे-तैसे पुलिस ने आरोपितों से खुद को छुड़ा कर अपनी जान बचाई। हमले के बाद आरोपित वहां से भाग गए। आनन-फानन में मालथौन पुलिस को सूचना दी गई, जिसके बाद मौके पर थाना प्रभारी योगेंद्र दांगी थाना बल के साथ वहां पहुंचे और सबसे पहले लहूलुहान पड़े एसआई जोरम को वहां से मालथौन भेजा। अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद उनकी गंभीर हालत को देखते हुए सागर रेफर कर दिया गया है। पुलिस ने आरोपितों पर मामला कायम कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।

ये भी पढ़ें: Bhojshala ASI Survey: भोजशाला में मिली भगवान ब्रह्मा की परिवार सहित प्रतिमा, सात नए अवेशष भी आए सामने


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.