Move to Jagran APP

मध्य प्रदेश में लोक सुरक्षा कानून का प्रारूप तैयार, विधानसभा के मानसून सत्र में गृह विभाग पेश करेगा विधेयक

मध्य प्रदेश सरकार ने लोक सुरक्षा अधिनियम 2024 का प्रारूप तैयार कर लिया है। गृह विभाग द्वारा इसे एक जुलाई से प्रारंभ होने वाले विधानसभा के मानसून सत्र में प्रस्तुत किया जाएगा। मध्य प्रदेश के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में अब तीसरी आंख से नजर रखी जाएगी। जब भी पुलिस को किसी मामले में रिकार्डिंग की आवश्यकता होगी उपलब्ध करानी होगी।

By Jagran News Edited By: Jeet Kumar Tue, 18 Jun 2024 04:00 AM (IST)
मध्य प्रदेश में लोक सुरक्षा कानून का प्रारूप तैयार, विधानसभा के मानसून सत्र में गृह विभाग पेश करेगा विधेयक
विधानसभा के मानसून सत्र में गृह विभाग पेश करेगा लोक सुरक्षा कानून

 राज्य ब्यूरो भोपाल। मध्य प्रदेश के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में अब तीसरी आंख से नजर रखी जाएगी। उन सार्वजनिक स्थानों पर, जहां सौ से अधिक लोग एकत्र होते हैं, सीसीटीवी कैमरे लगाने की अनिवार्यता रहेगी। दो माह तक रिकार्डिंग सुरक्षित रखनी होगी। जब भी पुलिस को किसी मामले में रिकार्डिंग की आवश्यकता होगी, उपलब्ध करानी होगी।

मानसून सत्र में प्रस्तुत किया जाएगा विधेयक

इसके लिए राज्य सरकार ने लोक सुरक्षा अधिनियम 2024 का प्रारूप तैयार कर लिया है। गृह विभाग द्वारा इसे एक जुलाई से प्रारंभ होने वाले विधानसभा के मानसून सत्र में प्रस्तुत किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने संभागीय समीक्षा के दौरान प्रारूप को तैयार करने का निर्देश दिया था।

यहां लगेंगे कैमरे

कानून व्यवस्था की दृष्टि से सरकार ने ऐसी जगहों पर निगरानी बढ़ाने के लिए पुलिस मुख्यालय को निर्देश दिया था, जहां भीड़भाड़ होती है। सामान्यत: स्कूल, कालेज, मॉल, रेस्टोरेंट, सिनेमाघर जैसे स्थानों पर बड़ी संख्या में लोग जुटते हैं। यहां कोई घटना होने पर पुलिस को जांच में परेशानी आती है।

सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए जन सहयोग भी लिया जाएगा

गृह विभाग के तत्कालीन अपर मुख्य सचिव डॉ राजेश कुमार राजौरा ने विधानसभा चुनाव के पहले पुलिस मुख्यालय और विधि विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक करके प्रस्तावित विधेयक का खाका तैयार करवाया था। शहरी क्षेत्रों में नगरीय निकाय और ग्रामीण क्षेत्रों में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग इस काम को देखेगा। सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए जन सहयोग भी लिया जाएगा।