भोपाल, जेएनएन। मध्य प्रदेश में शनिवार को कोरोना के 5315 नए मरीज मिले। इसी के साथ प्रदेश में सक्रिय मरीजों की संख्या 25523 हो गई है। भोपाल में 986, इंदौर में 1343, ग्वालियर में 593 और जबलपुर में 316 नए मरीज मिले। प्रदेश की संक्रमण दर 6.67 प्रतिशत रही। इससे पहले शुक्रवार को प्रदेश में 4,755 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। नए संक्रमित गुरुवार को लिए गए सैंपलों की जांच में मिले हैं। रिपोर्ट शुक्रवार को आई है। सिर्फ आगर मालवा, देवास, हरदा, मंदसौर, शाजापुर, उमरिया ही ऐसे जिले हैं, जहां गुरुवार की जांच में एक भी संक्रमित नहीं मिला है। हालांकि इन जिलों में पूर्व में संक्रमित मिलते रहे हैं। गुरुवार से शुक्रवार सुबह दस बजे तक की स्थिति में प्रदेश में एक भी कोरोना संक्रमित मरीज की मौत नहीं हुई है। कोरोना के बढ़ते संक्रमण ने बच्चों के स्वास्थ्य को लेकर चिंता बढ़ा दी है। रातीबड़ स्थित नवोदय विद्यालय में तीन शिक्षकों सहित 24 विद्यार्थी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इसमें दसवीं व बारहवीं कक्षा के छात्र शामिल हैं। सभी बच्चों को घर भेज दिया गया है। स्कूल को सील किया गया है। नवोदय विद्यालय के चार शिक्षक करीब छह दिन पहले असम में प्रशिक्षण लेने गए थे। शिक्षकों के लौटने पर इनमें से दो को सर्दी लगने की शिकायत सामने आई थी।

कोरोना संकट को देखते हुए विधानसभा के बजट सत्र की तारीख होगी तय

विधानसभा के बजट सत्र की तारीख तय करने के संबंध में कोरोना संक्रमण की स्थिति भी देखी जाएगी। संसदीय कार्य विभाग ने फरवरी के अंतिम सप्ताह से सत्र बुलाने का प्रस्ताव तैयार किया है। इसे संसदीय कार्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा ने अंतिम निर्णय के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को भेज दिया है। मुख्यमंत्री सचिवालय के अधिकारियों का कहना है कि कोरोना संक्रमण के मामले जिस तरह से बढ़ रहे हैं, उसे देखते हुए ही सत्र बुलाने के संबंध में निर्णय लिया जाएगा। यदि स्थिति नियंत्रण में आ जाती है तो फिर यह फरवरी के अंतिम सप्ताह या फिर मार्च के प्रथम सप्ताह से बुलाया जा सकता है।

Edited By: Sachin Kumar Mishra