भोपाल, प्रेट्र। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने शनिवार को आरोप लगाया कि एनसीबी द्वारा मुंबई में ड्रग्स के मामले में गिरफ्तार किए गए आर्यन खान को इसलिए प्रताड़ित किया जा रहा है, क्योंकि वह बालीवुड सुपरस्टार शाहरुख खान का बेटा है। वहीं, भाजपा ने कहा कि दिग्विजय  सिंह तुष्टीकरण की राजनीति कर रहे हैं। गौरतलब है कि आर्यन खान (23) को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने तीन अक्टूबर को मुंबई तट पर एक क्रूज जहाज पर छापेमारी के बाद गिरफ्तार किया था। जेल में बंद आर्यन ने बुधवार को एक विशेष अदालत द्वारा जमानत अर्जी खारिज होने के बाद बंबई उच्च न्यायालय का रुख किया था। हाईकोर्ट उनकी जमानत याचिका पर 26 अक्टूबर को सुनवाई करेगा।

दिग्विजय का ट्वीट

दिग्विजय ने शनिवार को ट्वीट में लिखा कि यह दुखद है कि शाहरुख के बेटे को उनका बेटा होने के लिए पीड़ित किया जा रहा है। उसका अपराध क्या है? उसके साथ गए किसी के पास पांच ग्राम नशीला पदार्थ था !! मुंद्रा बंदरगाह पर जब्त की गई टन हेरोइन का क्या हुआ? कुलदीप सिंह कौन है? क्या एनसीबी और अब एनआइए इस मामले की जांच कर रहे हैं, कृपया हमें बताएं? गौरतलब है कि डीआरआइ ने पिछले महीने गुजरात के मुंद्रा बंदरगाह पर दो कंटेनरों से करीब 3,000 किलोग्राम हेरोइन जब्त की थी। जब्त की गई हेरोइन की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजारों में 21,000 करोड़ रुपये आंकी गई है।

भाजपा का पलटवार

दिग्विजय पर पलटवार करते हुए मध्य प्रदेश भाजपा ने कहा कि कांग्रेस नेता ने अदालत का इंतजार किए बिना फैसला सुनाया है। आखिरकार दिग्विजय सिंह आर्यन खान के बचाव में आए। मामला अभी विचाराधीन है, जांच एजेंसी तथ्यों की जांच कर रही है, लेकिन उन्होंने (सिंह) अपना फैसला सुना दिया है! भाजपा ने पूछा कि आखिर आप कब तक तुष्टीकरण की राजनीति करके लोगों को गुमराह करते रहेंगे?  भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा कि सिंह को देश की न्यायपालिका में विश्वास होना चाहिए। कांग्रेस और दिग्विजय सिंह ने कानून का दुरुपयोग किया और हमेशा ऐसे कृत्यों में विश्वास किया, लेकिन कानून लोगों को विश्वास के आधार पर अलग नहीं करता है। यह हिंदू-मुस्लिम का मुद्दा नहीं है और दिग्विजय सिंह को अब अपनी मानसिकता बदल लेनी चाहिए। शर्मा ने कहा कि शाहरुख खान या उनके बेटे से किसी की व्यक्तिगत दुश्मनी नहीं है, क्योंकि लोगों ने उनकी फिल्में देखकर उन्हें स्टार बना दिया है।  

Edited By: Sachin Kumar Mishra