मेट्रो में टैक्सी या कैब बुक करना आम बात है. अगर आपको पब्लिक ट्रांसपोर्ट से कहीं जाने का मन नहीं है, तो आप तुंरत कैब बुक कर लेते हैं, लेकिन सोचिए अगर आप किसी नदी या पानी वाली जगह को पार करके जाना चाहते हैं, तो आप कैसे जाएंगे? टूरिस्ट्स की ट्रिप को और मजेदार बनाने के लिए गुवाहाटी में पहली ‘रिवर टैक्सी’ शुरू होने जा रही है.  सबसे खास बात ये है कि ये एप बेस्ड टैक्सी है. जो एक तरह की मशीन ऑपरेटिंग बोर्ट है. जिसे बुक करने के बाद 2-3 मिनट लोकेशन पर पहुंचने में लगता है. पर्यावरण की दृष्टि से देखा जाए, तो ये बोट प्रदूषण को रोकने में सहायक है. साथ ही इससे पर्यटकों को किसी तरह की परेशानी का सामना भी नहीं कर पड़ेगा. 

पर्यटन स्थल के साथ व्यावसायिक केंद्र 
कुछ ही वक्त में इस रिवर टैक्सी को शुरू कर दिया जाएगा. पूर्वोत्तर का केन्द्र होने के कारण गुवाहाटी व्यवसायिक रूप से काफी गहमागहमी वाला शहर है. यहां इस क्षेत्र का सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन के साथ-साथ एकमात्र अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट भी यहीं है. साथ ही गुवाहाटी मेघालय सहित अन्य राज्यों को जोड़ने का काम भी करता है. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी (आईआईटी) के कारण यह शहर शिक्षा के मामले में भी पीछे नहीं है.
 

By Pratima Jaiswal