शहरों में नाइट लाइफ होना आम बात है. मेट्रो सिटीज का आलम तो ये है कि यहां पूरी रात सड़कें वीरान नहीं होती. कहीं न कहीं चहलकदमी होती ही रहती है. हम में से कई लोगों को नाइट लाइफ कल्चर पसंद होगा. किसी शहर की नाइट लाइफ से वहां का पर्यटन भी जुड़ा होता है. इसी बात को गंभीरता से लेते हुए राजस्थान के जैसलमेर में नाइट लाइफ कल्चर को बढ़ावा दिया जाएगा.

 

यहां पर रात में मनोरंजक कार्यक्रमों के न होने से पर्यटकों को निराशा हाथ लगती है. जिससे यहां के पर्यटन पर असर पड़ रहा है.  हाल ही में सेंड स्केप कला एवं म्यूजिक शोकेस कंपनी द्वारा पर्यटन स्थलों को प्रमोट करने के मकसद से लाइट एवं म्यूजिक शो के शानदार आयोजन किया गया था.गोल्डन सिटी के नाम से मशहूर जैसलमेर में भ्रमण के लिए हर साल करीब 8 से 10 लाख सैलानी जैसलमेर पहुंचते हैं. यहां आने पर दिन के समय वे ऐतिहासिक धरोहरों का तो भ्रमण कर लेते है लेकिन रात के समय उनके पास सम में मनोरंजन के अलावा कोई साधन नहीं है.
इससे पर्यटक एक बारगी तो सम भ्रमण कर लेते हैं, लेकिन दूसरी बार में वे किसी अन्य जगह पर भ्रमण करना चाहते है. इसके लिए प्रयास कर जैसलमेर में लाइट एंड साउंड शो का आयोजन कर पर्यटन को बढ़ावा दिया जा सकता है. यहां हर साल करीब 8 से 10 लाख सैलानी जैसलमेर पहुंचते हैं. अब देखना ये है कि नाइट लाइफ से जैसलमेर पर्यटन को कितना बढ़ावा मिलता है. 
 

Posted By: Pratima Jaiswal