जहां बड़े से फाटक पर द्वारपाल आपकी अगवानी करे, जहां हर दीवार आपको रोमांचित करे, बुर्ज पर खड़े हों तो दूर-दूर तक हरियाली नजर आए, कमरों में शाही सत्कार हो, खाने में पारंपरिक व्यंजन चखने को मिले और तो और शहर की भागदौड़ से दूर शांत एकांत मिले, तो इउससे अच्छा हनीमून डेस्टिेनेशन क्या हो सकता है? अगर इस शाही शान से रूबरू होना चाहते हैं तो चुनें वे जगहें जहां हेरीटेज किलों और महलों को लक्जरी होटल्स में तब्दील कर दिया गया है।

महल में रोमांटिक एहसास

झीलों की नगरी के नाम से मशहूर उदयपुर सिसोदिया राजवंश द्वारा शासित मेवाड़ राजवंश की राजधानी रहा है। उदयपुर में भी बहुत सी शाही इमारतें हैं जो राजशाही की याद दिलाती हैं। लेक पैलेस कभी महाराणा जगत सिंह का महल हुआ करता था, लेकिन अब यह एक खूबसूरत होटल है जिसमें राजसी ठाठ-बाट का हर साजो-सामान मौजूद है। पिछोला झील के बीच जग निवास द्वीप पर स्थित इस पैलेस में स्पीड बोट से जाया जाता है। इसे दुनिया का सबसे रोमांटिक होटल भी माना जाता है। ब्रिटेन की क्वीन एलिजाबेथ ने भी यहां ठहर कर राजशाही का लुत्फ उठाया था। उनके अलावा ईरान के शाह, नेपाल नरेश और अमेरिका की फ‌र्स्ट लेडी रहीं जैकलीन कैनेडी जैसे शाही मेहमान भी यहां की शाही मेजबानी का लुत्फ उठा चुके हैं। कई बॉलीवुड मूवी की शूटिंग यहां हो चुकी है। इसी तरह पिछोला झील के तट पर बसे शिव निवास पैलेस की भव्यता भी लोगों को आकर्षित करती है। इन महलों में आपको शाही खाने भी मिलते हैं। लाल मांस से लेकर दाल-बाटी-चूरमा और विशेष मिठाइयां यहां रॉयल स्वाद में मिल सकती हैं।

मुगल स्थापत्य की भी झलक मड किले में

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले में दिल्ली से करीब 2 घंटे के सफर पर है कुचेसर किला। एनएच-24 के रास्ते यहां तक आराम से पहुंचा जा सकता है। यह किला 18वीं शताब्दी का है। जाट शासकों द्वारा बनवाया गया यह किला होटल मड किले के नाम से दुनियाभर में जाना जाता है। इसमें मुगल स्थापत्य की भी झलक है। यहां हॉलीवुड फिल्में भी शूट की जा चुकी हैं। कुचेसर के इस किले के कुछ हिस्सों को अब हेरिटेज रिजॉर्ट में बदला जा चुका है। सन् 1734 में बना यह किला चारों ओर से100 एकड़ में फैले आम के बागों से घिरा हुआ है। इस किले में जाट शासकों की विरासत को संभाल कर रख गया है।

कोचीन का कोलोनियल होम

कोचीन का ले कोलोनियल भी हेरिटेज प्रॉपर्टी है जो 16वीं सदी का कोलोनियल होम है। ले कोलोनियल होटल में वास्को डी गामा और सेंट फ्रांसिस भी रह चुके हैं। यहां के इंटीरियर में सागवान की लकड़ी के पैनल और आराम करने के लिए विशाल बरामदे भी हैं। इसके अलावा, कमरों में लार्ज पोस्टर बेड भी हैं। पुराने स्टाइल के डाइनिंग रूम इस हेरिटेज होटल की खूबसूरती में चार-चांद लगाते हैं।

Posted By: Priyanka Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप