नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। घाटी का दीदार करने वाले पर्यटकों को आने वाले मार्च महीने में 15 दिनों तक हवाई यातायात सेवा में असुविधा हो सकती है। खबरों की मानें तो जम्मू एयरपोर्ट को मार्च महीने में 15 दिनों के लिए बंद किया जा रहा है। इसके लिए एयरपोर्ट की सभी उड़ानों को पूर्णरूपेण रद्द कर दिया गया है। इस बात की पुष्टि सीनियर एयर ट्रैफिक कंट्रोलर के पत्र से होती है, जिसमें कंट्रोलर ने एयरपोर्ट अथॉरिटी और एयरलाइन्स को पत्र लिखकर रनवे को पूर्णतः बंद करने की बात कही है। इसमें बताया गया है कि रनवे की सतह पर दो शीर्ष DAC-II परतों के बिछाने के लिए 5 मार्च से 20 मार्च तक 15 दिनों के लिए एयरपोर्ट को बंद किया जा रहा है। इसके लिए एयरलाइन ऑपरेटर्स को भी पत्राचार कर सभी उड़ानों पर रोक लगाने की सिफारिश की गई है। ऐसा माना जाता है कि प्रतिदिन 20 फ्लाइट जम्मू एयरपोर्ट से उड़ती हैं।

जम्मू अपनी प्राकृतिक खूबसूरती और पर्यटन के लिए प्रसिद्ध है। यहां माता वैष्णो देवी मंदिर, रघुनाथ मंदिर, बहू किला, भीमगढ़ किला, पीरखो गुफा, मंदा ज़ू, मुबारक मंडी प्लेस, शिव खोरी, शीश महल समेत कई ऐतिहासिक और धार्मिक स्थल है। जम्मू स्थित माता वैष्णो देवी मंदिर में माता के दर्शन के लिए हजारों की संख्या में श्रद्धालु आते हैं। इसके लिए पर्यटक पहले जम्मू पहुंचते हैं। इसके बाद कटरा जाते हैं। श्रद्धालु कटरा से 12 किलोमीटर की दूरी तय कर माता के दर्शन करते हैं।

हालांकि, कोरोना वायरस महामारी के चलते साल 2020 में माता वैष्णो देवी मंदिर लंबे समय तक बंद था। हालांकि, वर्तमान समय में मंदिर समेत सभी सार्वजनिक स्थलों को खोल दिया गया है। वहीं, मार्च महीने में वेकेशन पर पर्यटक जम्मू जाते हैं। इससे पर्यटकों को दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। हालांकि, 21 मार्च से यातायात सेवा पुन: बहाल हो जाएगी।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप