भारत में ही नहीं दुनियाभर में खाना खाने के बाद मीठा खाने का रिवाज़ है। और इसी वजह से डेजर्ट्स में बहुत सारी वैराइटी देखने को मिलती है जो कई बार क्या खाएं और क्या नहीं इसे लेकर कनफ्यूज़ कर देते हैं। हर एक जगह अपना अलग स्वाद और पहचान लिए हुए है। सबसे खास बात है कि यहां त्योहारों पर अलग, शादी-विवाह में अलग और खाने के बाद परोसे जाने वाले डेजर्ट्स अलग-अलग होते हैं। जो आपको जायकों को एक्सप्लोर करने का मौका देते हैं। तो आइए आज चलते हैं आज भारत के मशहूर डेजर्ट्स के सफर पर...

संदेश, पश्चिम बंगाल

यहां आकर आप तरह-तरह के डेजर्ट्स का स्वाद ले सकते हैं। पश्चिम बंगाल को तरह-तरह के संदेश के लिए जाना जाता है जिसमें सबसे ज्यादा लोकप्रिय है नोलेन गुरेर संदेश, जो बाकियों से अलग गुड़ और खजूर के साथ तैयार किया जाता है। बदलते वक्त के साथ जहां डेजर्ट्स को बनाने के लिए चॉकलेट्स, स्ट्रॉबेरी, आम और भी दूसरी चीज़ों का इस्तेमाल किया जाता है। वहीं संदेश आज भी पुरानी चीज़ों से तैयार होता है। 

मलाइयो, उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश खासतौर से वाराणसी की बहुत ही लोकप्रिय डेजर्ट है। क्रीमी डेजर्ट पसंद करने वालों को इसका स्वाद बहुत भाता है। तपती गर्मी में ठंडक का एहसास कराने के लिए ये एकदम परफेक्ट डेजर्ट है। मिल्क क्रीम को फेटते हुए उसका फोम रूप मलाइयो है। जिसका स्वाद आप यहां के हर गली-चौराहे पर ले सकते हैं। 

बेबिन्का, गोवा

पार्टी और ड्रिकिंग के बीच आप इस डेजर्ट को भी ट्राय करने का वक्त निकालें। पुर्तगाली खानपान का हिस्सा बेबिन्का लेयर्ड डेजर्ट होता है जो बहुत ही मीठा खाने के शौकीनों को बहुत पसंद आता है। इसमें सात लेयर्स होते हैं जो आटे, चीनी, मक्खन, अंडे और कोकनट मिल्क से बनाया जाता है। बेबिन्का को गोवा के ज्यादातर सेलिब्रेशन में सर्व किया जाता है। जिसे आप आइसक्रीम के साथ भी खा सकते हैं।

घेवर, राजस्थान

घेवर का स्वाद आप कुछ एक सीज़न में ही आकर ले सकते हैं। राजस्थान के पसंदीदा घेवर को खासतौर से रक्षाबंधन और तीज में बनाया जाता है। लेकिन अब उत्तरी भारत में भी इसे बनाया जाने लगा है। जुलाई-अगस्त-सितंबर में राजस्थान आने का प्लान करें क्योंकि तब यहां की हवाओं में भी घेवर की खुशबू फैली होती है। मक्खन, चीनी से तैयार घेवर का स्वाद एक बार चखने के बाद उसके दीवाने हो जाएंगे।   

देहरोरी, छत्तीसगढ़

खट्टे-मीठे स्वाद वाला ये डेजर्ट खाने के बाद आप गुलाबजामुन और रसमलाई का स्वाद भूल जाएंगे। ये यहां का पारंपरिक डेजर्ट है जो चावल से तैयार किया जाता है और इसे बनाने में 1 दिन से भी ज्यादा का वक्त लगता है। चावल, पानी, दही, घी, चीनी, इलायची पाउडर और ड्राई फ्रूट्स को मिक्स कर बैटर तैयार किया जाता है जिसे पूरी रात रखा जाता है और अगले दिन इससे बड़े-बड़े लोइए तैयार कर उसे चाशनी में डाला जाता है।

छेना पोडा, ओडिशा

चीज़ लवर्स को ओडिशा का ये डेजर्ट बहुत भाता है। जो बेक्ड चीज़ होता है जिसमें बहुत सारा काजू और किशमिश होता है। चीज़ को तब तक पकाया जाता है जब तक कि उसका रंग सुनहरा न हो जाए और इससे उसका स्वाद भी थोड़ा अलग हो जाता है। घर में बने हुए चीज़ और चीनी के साथ इसका स्वाद और बेहतरीन हो जाता है। 

 

Posted By: Priyanka Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप