टीम के सदस्यों के बीच अच्छा तालमेल संस्थान और कर्मचारी दोनों की तरक्की का आधार होता है। इसलिए करियर के हर मोड़ पर खुद को उम्दा टीम मेंबर साबित करने की कोशिश होनी ही चाहिए। जिसमें यहां दिए जा रहे टिप्स आ सकते हैं काम।

किसी भी प्रोजेक्ट की सफलता टीम मेंबर्स के आपसी तालमेल पर निर्भर करती है। इसलिए टीम के हर सदस्य का मेहनती, ईमानदार और सकारात्मकता से भरपूर होना बेहद जरूरी है। इससे नए आइडियाज़ तो सामने आते ही हैं, सबको अपनी क्षमताएं दिखाने का मौका भी मिलता है। उम्दा टीम मेंबर बनने में कौन-सी बातें मददगार होती हैं, जानिए यहां...

1. समझें अपनी भूमिका

एक उम्दा टीम मेंबर अपनी भूमिका को बखूबी समझता और उसे पूरी शिद्दत से निभाता है। इसलिए अपना रोल पूरी ईमानदारी से निभाएं। अगर टीम में आपका रोल छोटा और साधारण हो, तो उसी में कुछ असाधारण करके दिखाएं। इससे टीम में आपकी विशिष्ट पहचान बनेगी।

2. जीतें भरोसा

हमेशा अपने काम की जिम्मेदारी लें और दूसरों की मदद के लिए भी हमेशा तत्पर रहें। इससे बॉस और कलीग्स का आप पर भरोसा बढ़ेगा। टीम में आपकी स्थायी जगह बन सकेगी।

3. विचारों में खुलापन

अच्छा टीम प्लेयर बॉस और साथियों के विचारों को खुले दिल से स्वीकारता और शांत भाव से अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करता है। फिर भले ही उसकी आलोचना क्यों न हो रही हो। इसलिए सबकी बातों-विचारों को धैर्य से सुनें और गुनें। अपनी आलोचना का स्वर सुनाई दे तो भी आक्रामक होने की बजाय खुद को और बेहतर बनाने की कोशिश करें।

4. सौम्य हो व्यवहार

दफ्तर में अलग-अलग उम्र, परिवेश और संस्कृति वाले लोगों के बीच अपना स्थान बनाना चुनौतीपूर्ण होता है। इस चुनौती से निपटने के लिए बॉस और कलीग्स से उनकी रुचि, सोच और पसंद-नापसंद के मुताबिक बात करें। समय-समय पर उनकी योग्यता और कार्यशैली की तारीफ करके रिश्तों में मधुरता लाएं।

6. श्रेय दें

भले ही आप टीम की मजबूती का आधार हों, आपकी काबिलियत टीम की राह आसान करती हो, तो भी हर प्रोजेक्ट की सफलता का श्रेय बॉस और साथियों को दें। टीम के बीच आपकी स्वीकार्यता बढ़ेगी।

(करियर काउंसलर डॉ. सुशील कुमार पारे, मुंबई से बातचीत पर आधारित)

Pic credit- freepik

Edited By: Priyanka Singh