नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क।Hindi Diwas 2021: हर साल 14 सितंबर का दिन हिन्दी दिवस के रूप में मनाया जाता है। हिन्दी दिवस को पूरे एक हफ्ते तक सेलिब्रेट किया जाता है, जिसे हिन्दी पखवाड़ा के नाम से जानते हैं। हिन्दी दुनिया में बोली जाने वाली भाषाओं में तीसरे नंबर पर है। दुनिया में 55 करोड़ लोग इस भाषा को समझते हैं, जबकि भारत में 45 करोड़ नागरिकों की बातचीत का जरिया हिन्दी भाषा है। आज़ादी के बाद अंग्रेजी के बढ़ते चलन और हिन्दी के महत्व को कम होते देख हिन्दी दिवस को हर साल मनाने का फैसला लिया गया। 14 सितंबर को 1949 को हिंदी को राजभाषा बनाया गया लेकिन गैर हिंदी राज्यों ने इसका विरोध किया जिसकी वजह से अंग्रेजी को हिन्दी की जगह दी गई। तब से लेकर आज तक हिंदी के महत्व को बढ़ाने के लिए हिंदी दिवस मनाया जाता है।

इस दिन को स्कूलों से लेकर कार्यालयों तक में सेलिब्रेट किया जाता है, जिसके तहत निबंध प्रतियोगिता, भाषण, काव्य गोष्ठी, वाद-विवाद जैसी प्रतियोगिताएं कराई जाती हैं। हिन्दी भाषा के उत्थान और भारत में राष्ट्रभाषा का सम्मान दिलाने के लिए ही हिन्दी दिवस मनाया जाता है।

हिन्दी दिवस में स्कूल और कार्यालय में उत्सव

हिंदी दिवस के दिन स्कूल और कॉलेज में छात्र बेहतरीन भाषण देते हैं और इस भाषा के जरिए लोगों को हिंदी दिवस को लेकर और जागरूक भी करते हैं। छात्र अपनी मातृ भाषा के प्रति अपना प्यार और सम्मान दर्शाते हैं और लोगों को इस भाषा का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करने के लिए प्रेरित करते हैं। इस मौके पर आप भी स्कूल या ऑफिस में हिन्दी स्पीच देना चाहते हैं तो हम आपको बताते हैं कि आप अपनी स्पीच कैसे तैयार करें।

Speech 1: सभी अतिथि, प्रिय शिक्षकगण और सभी दोस्तों को हिन्दी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

हिन्दी हमारी अपनी भाषा है जिसका एक हज़ार साल पुराना इतिहास है। हमारा कार्यालय इस दिन को किसी उत्सव से कम नहीं मानता। भले ही हमारे कामकाज की भाषा अंग्रेजी हो लेकिन हमारी मात्र भाषा को हम बेहद सम्मान देते हैं।

हिंदी भाषा को देवनागरी लिपि में भारत की कार्यकारी और राजभाषा का दर्जा आधिकारिक रूप में दिया गया। गांधी जी ने हिंदी भाषा को जनमानस की भाषा भी कहा है। भारतीय संविधान के भाग 17 के अध्याय की धारा 343 (1) में हिंदी को संघ की राजभाषा का दर्जा दिया गया है। भारत में 1949 से हर साल 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जाता है।

Speech 2:

सभी अधिकारियों और साथियों को मेरा नमस्कार, हिंदी दिवस के अवसर पर मैं अपने विचार प्रस्तुत करना चाहती हूं।

हिंदी दिवस जिसे हर साल 14 सितंबर को मनाया जाता है। मंडारिन, अंग्रेजी के बाद हिन्दी तीसरी ऐसी भाषा है जो दुनिया में सबसे अधिक बोली जाती है। भारत में हिंदी एक मात्र ऐसी भाषा है, जिसे सबसे अधिक बोला, लिखा व पढ़ा जाता है। हिंदी भाषा को सम्मान देने के लिए हिन्दी दिवस के मौके पर भारत के राष्ट्रपति दिल्ली में एक समारोह में हिंदी भाषा में अतुलनीय योगदान के लिए लोगों को राजभाषा पुरस्कार से सम्मानित करते हैं।

हिन्दी हमारी अपनी भाषा है लेकिन हम अंग्रेजी में बोलते हुए खुद को गौरांवित महसूस करते हैं। हिन्दी भाषा के शब्द ही नहीं, बल्कि इसके भाव भी दिल को छूते हैं। इसलिए मैं आप सबसे आग्रह करती है कि बोलचाल और लिखते वक्त हिंदी का इस्तेमाल ज्यादा से ज्यादा करें। हमारा मतलब यह नहीं है कि आप और भाषाओं जैसे इंग्लिश या दूसरी भाषाओं से खुद से दूर कर लें। हम केवल एक भाषा के माध्यम से राष्ट्र को एकजुट करने की अपील करते हैं।

धन्यवाद!

Speech 3

दोस्तो और प्यार अध्यपक, सबको मेरा नमस्ते!

हर साल 14 सितंबर को हिंदी से जुड़ी ऐतिहासिक घटनाओं को याद करने और हिंदी भाषा को बढ़ावा देने और उसके प्रचार प्रसार के लिए पूरे देश में हिंदी दिवस मनाया जाता है। हिन्दी दिवस का यह उत्सव केंद्र सरकार के सभी दफ्तरों, स्कूलों और अन्य सरकारी संस्थानों में मनाया जाता है। इस दिन भारत के राष्ट्रपति द्वारा नई दिल्ली के विज्ञान भवन में हिंदी से संबंधित क्षेत्रों में अपने बेहतर प्रदर्शन करने के लिए लोगों को पुरस्कार दिए जाते हैं।

Edited By: Shahina Noor