नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Valentines Day 2020 Wishes: नए साल की शुरुआत होते ही सभी को सबसे रोमांटिक दिन यानी वैलेंटाइन डे का बेसब्री से इंतज़ार होने लगता है। हालांकि, प्यार का सेलीब्रेशन एक हफ्ते पहले यानी 7 फरवरी से ही शुरू हो जाता है। कभी रोज़ डे तो कभी प्रपोज़ डे, फिर चॉकलेट डे, टेडी डे, हग डे, किस डे...हर दिन एक खास दिन के रूप में मनाया जाता है। लेकिन सभी दिनों में एक दिन सबसे ज़्यादा खास होता है और वो है वैलेंटाइन डे। 

Happy Valentine Day Shayari: बेझिझक होकर बयां करें दिल के अरमान, इन प्यार भरी शायरी के साथ

पूरे वैलेंटाइन वीक में सबसे खास दिन को संत वैलेंटाइन की याद में हर साल 14 फरवरी को मनाया जाता है। वैसे प्यार के इज़हार में किसी विशेष तिथि का इंतज़ार नहीं करना चाहिए, और अगर दिल में किसी के लिए प्यार है तो उसका इज़हार जल्द से जल्द कर देना चाहिए। ऐसे करने से दोनों पक्षों को क्लीयरटी मिल जाती है। हालांकि, कई मामले में प्यार का इज़हार महज दो लोगों के आपसी अंडरस्टैंडिंग से हो जाती है, लेकिन कुछ मामलों में बहुत इंतज़ार करना पड़ता है और ये इंतज़ार फरवरी के महीने में ख़त्म हो जाता है।

वैलेंटाइन डे पर ऐसे कर सकते हैं विश

वैलेंटाइन डे के मौके पर आप अपने पार्टनर को तो विश करते ही हैं साथ ही आप सोशल मीडिया या फोन पर मैसेज के ज़रिए दूसरों को भी प्यार के इस खास दिन पर विश कर सकते हैं। आप इस दिन खासतौर से तैयार वैलेंटाइन डे इमेज एक दूसरे के साथ शेयर कर सकते हैं। 

तुमने पूछा था कितना प्यार है तुमसे

लो गिन लो बारिश की सारी बूंदे

फिर ख़बर हो जाएगी मेरे प्यार की।

Happy Valentines Day!

कभी हंसाता है ये प्यार

कभी रुलाता है ये प्यार 

हर पल की याद दिलाता है ये प्यार

चाहो या न चाहो पर आपके होने पर

अहसास दिलाता है यह प्यार

Happy Valentines Day!

हसरत है सिर्फ तुम्हें पाने की

और कोई भी ख्वाहिश नहीं है इस दीवाने की

शिक़वा मुझे तुमसे नहीं खुदा से है

क्या ज़रूरत थी तुम्हें इतनी खूबसूरत बनाने की।

Happy Valentines Day!

क्यों मनाया जाता है वैलेंटाइन डे

बात सदियों पुरानी है, जब रोम में राजा क्‍लॉडियस का सम्राज्य हुआ करता था, जो अपने पराक्रम, वीरता और श्रेष्ठता के लिए दुनिया भर में जाना जाता था और एक दिन क्‍लॉडियस ने अपने सम्राज्य को विश्व शक्ति बनाने के लिए अजीबोग़रीब फ़रमान जारी किया। जिसमें उन्होंने अपने सम्राज्य के किसी भी पुरुष को शादी नहीं करने का आदेश दिया। इस बारे में क्‍लॉडियस का कहना था कि शादी करने से पुरुष की बौद्धिक और शारीरिक शक्ति का नाश हो जाता है। ऐसे में रोम की वीरता और श्रेष्ठता बनाए रखने के लिए पुरुषों को अविवाहित रहना ज़रूरी है।

क्‍लॉडियस के इस तुग़लकी फ़रमान से पूरे रोम में हाहाकार मच गया। लोगों ने, खासकर महिला वर्ग ने इसका पूरा विरोध किया और वे धार्मिक संतों के पास पहुंचे। इसके बाद संत वैलेंटाइन ने क्‍लॉडियस के इस तुग़लकी फ़रमान का पुरज़ोर विरोध किया और रोम के लोगों को शादी करने के लिए प्रेरित किया।

इसके अतिरिक्त संत वैलेंटाइन ने क्‍लॉडियस के आदेश की परवाह न करते हुए, रोम में सैनिकों और अधिकारियों समेत आम लोगों की शादी करवाई। जिससे क्लॉडियस काफी नाराज़ हुए और उन्होंने 14 फरवरी सन् 269 को संत वैलेंटाइन को गिरफ्तार करने का आदेश दिया और फिर संत वैलेंटाइन को गिरफ्तार कर उन्हें सूली पर चढ़ा दिया गया। जिस दिन संत वैलेंटाइन को सूली पर लटकाया गया, उसी दिन से वैलेंटाइन डे मनाने की प्रथा की शुरुआत हुई।  

 

Posted By: Ruhee Parvez

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस