दिवाली में घर की साफ-सफाई के साथ उसकी सजावट भी बहुत मायने रखती है। ड्राइंग रूम से लेकर बेडरूम, किचन और गॉडर्न यहां तक कि पूजा घर को भी लोग फूलों, कंदीलों, लैंप्स जैसी कई चीज़ों से सजाते हैं। तो आइए जानते हैं इस दिवाली हर एक जगह को कैसे कर सकते हैं रौशन। 

पूजा घर की सजावट

दिवाली के मौके पर घरों में लोग लक्ष्मी-गणेश की पूजा करते हैं तो पूजा घर की साफ-सफाई और सजावट भी जरूरी है। इसकी सजावट के लिए आप कलरफुल लाइट्स, वॉल स्टिकर्स और अलग-अलग फूलों का इस्तेमाल करें। ईको फ्रेंडली सजावट के लिए मिट्टी के दीए रहेंगे बेस्ट। आम के पत्ते से आप पूजा घर के प्रवेशद्वार को सजा सकती हैं। 

फूलों के साथ सजावट

सजावट के लिए फूलों का इस्तेमाल काफी पहले से किया जाता रहा है जो हर एक जगह की खूबसूरती में चार चांद लगा देते हैं। फूल असली हो या नकली, घर के लुक को बदलने के लिए इससे अच्छा ऑप्शन दूसरा हो ही नहीं सकता। परदे की जगह आप फूलों की लड़ियां बनाकर सजा सकती हैं और वहीं मेज या घर के कोनों को सजाने के लिए गुलदस्ते का इस्तेमाल करना ज्यादा बेहतर रहेगा। जिससे जरूरत पड़ने पर गुलदस्ते को हटाया जा सके। तांबे, पीतल, शीशे और चीनी मिट्टी के गुलदस्ते सजावट के लिए अच्छे होते हैं।

कलरफुल कुशन्स के साथ

दिवाली में घर की सजावट के लिए आप कलरफुल कुशन्स भी इस्तेमाल कर सकती हैं। प्रिंटेड, एम्ब्रॉयडरी और पैच वर्क वाले कुशन्स घर के लुक को एकदम ही बदल देते हैं। कपड़ों के बचे हुए कतरन से भी आप कुशन कवर तैयार कर सकती हैं। इसके अलावा ब्रोकेड, सिल्क वाले कुशन्स भी आजकल ट्रेंड में हैं। थोड़ा और एक्सपेरिमेंट के लिए पुरानी जींस का इस्तेमाल करके कुशन कवर्स तैयार करें। 

टेड्रिशनल इंडियन सजावट

एंटीक तांबे के कछुए और हाथी वाले लैंप्स, दिवाली में घर की सजावट के लिए रहेंगे बेस्ट। वैसे तरह-तरह के मिट्टी वाले लैप्स भी दिवाली मेले में देखने को मिलते हैं। जिनसे आप ड्राइंग रूम, बेडरूम, गॉर्डन एरिया हर एक जगह को डेकोरेट कर सकती हैं। 

गॉर्डन की सजावट

दिवाली में घर का हर एक कोना रोशन करें और गॉर्डन तो इसका बहुत ही जरूरी हिस्सा होता है। ज्यादातर घरों की एंट्री गॉर्डन एरिया से ही होकर जाती है तो न करें इसकी अनदेखी। दिवाली के लिए लाइट्स, लैंप्स, फूलों और दीए जैसी कई चीज़ों से आप इस जगह को बना सकते हैं खूबसूरत और हैपनिंग। अगर गॉडर्न में पेड़-पौधे लगे हैं तो थोड़ी ऊंचाई वाले पौधों पर लैंटर्न्स लगाने के साथ उन्हें छोटी-छोटी लाइट्स से भी सजा सकते हैं। 

झूमर, झालर का इस्तेमाल

लीविंग रूप बहुत बड़ा है तो सेंटर में झूमर लगाएं। यकीन मानिए ये आपके पूरे रूम का लुक चेंज कर देंगे। बची हुई चीज़ों के इस्तेमाल से अलग-अलग तरह के लैंटर्न्स और लैंप्स तैयार करें और इससे भी घर को सजाएं। 

 

Posted By: Priyanka Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस