बहुत ज्यादा ठंड में आपने देखा होगा कि कई सारे पेड़-पौधों दम तोड़ देते हैं। बल्कि आप रोजाना उन्हें पानी और खाद देते हैं।तो जान लें कि यहीं आप सबसे बड़ी गलती कर रहे हैं। जी हां, सर्दियों में पौधों को बहुत ज्यादा देखरेख की जरूरत नहीं होती। तो कैसे उन्हें मरने से बचाया जा सकता है आइए जानते हैं।

1. रोजाना पानी न दें

सर्दियों में पौधे हाइबरनेशन मोड में चले जाते हैं, मतलब उन्हें उतने पानी की आवश्यकता नहीं होती है जितनी गर्मियों में। रोजाना पानी देते रहने से वो सड़ने लगते हैं इसलिए सर्दियों में जब जरूरत लगे तभी पानी दें। पानी देने से पहले मिट्टी को छूकर देख लें अगर ये हल्की गीली है तो इसे पानी की बिल्कुल जरूरत नहीं। 

2. खाद देते समय रखें ध्यान

पानी की तरह ही सर्दियों में पौधों को बहुत ज्यादा खाद की भी जरूरत नहीं होती। अगर आपके पौधे अच्छे-भले नजर आ रहे हैं तो खाद डालना पूरी तरह से अवॉयड करें। लेकिन अगर जरूरत लग रही है तो उसे पहले डॉयल्यूट कर लें। 

3. ट्रिमिंग है जरूरी

सर्दियों में प्लांट्स की ट्रिमिंग कर देना बेहतर होता है जिससे पतझड़ के बाद वो अच्छी तरह से विकसित हो सके। 

4. पुनर्रोपण न करें

सर्दियों में पौधों का पुनर्रोपण कठिन होता है। जड़े मजबूत करने में उन्हें बहुत टाइम लग जाता है और ज्यादातर चांसेज होते हैं कि वो लग ही नहीं पाते। इसलिए सर्दियों में ऐसा करने की गलती न करें। वसंत तक का इतंजार कर लें।

5. सूरज की रोशनी है जरूरी

सर्दियों में धूप की कमी से भी ज्यादातर पौधे दम तोड़ देते हैं तो पौधों को ऐसी जगह रखने की व्यवस्था करें जहां धूप का आवागमन होता हो। 

6. ह्यूमिडफायर का इस्तेमाल

ह्यूमिडिफायर शुष्क सर्दियों की हवा में अतिरिक्त नमी जोड़ सकता है और ज्यादा नाजुक पौधों की पत्तियों को भूरे होने से बचाने में मदद कर सकता है। साथ ही यह आपके फेफड़ों के लिए भी अच्छा होता है।

Pic credit- freepik

Edited By: Priyanka Singh