नई दिल्ली, जेएनएन। बारिश के साथ ही जलजनित बीमारियां अपना कहर बरपाना शुरू कर देती हैं। इस मौसम में डेंगू, चिकनगुनिया और मलेरिया जैसी बीमारियों का सबसे ज्यादा भय रहता है। मच्छर के काटने से फैलने वाले इन रोगों से आम के साथ-साथ खास लोग भी प्रभावित होते हैं। आज हम उन बॉलीवुड सितारों के बारे में बात करेंगे, जिनको डेंगू ने अपनी चपेट में ले लिया था।  

रणवीर सिंह 

'बाजीराव मस्तानी', 'पद्मावत' और 'गोलियों की रासलीला रामलीला' जैसी सुपरहिट फिल्में देने वाले रणवीर सिंह डेंगू के शिकार हो चुके हैं। रणवीर इस बीमारी की चपेट में तब आए, जब वह अपनी फिल्म 'गुंडे' की शूटिंग दुर्गापुर में कर रहे थे। लक्षण दिखने के बाद उन्हें मुंबई के हिंदुजा अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

ऋषि कपूर

सख्त मिजाजी और बड़बोले स्वभाव के लिए पहचाने जाने वाले 66 वर्षीय दिग्गज अभिनेता ऋषि कपूर डेंगू और मलेरिया के शिकार रह चुके हैं। उन्हें मुंबई के लीलावती अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां कुछ ही दिनों में वह ठीक भी हो गए थे।

श्रद्धा कपूर

साल 2018 में अक्टूबर की शुरुआत में श्रद्धा कपूर भी डेंगू की चपेट में आ गई थीं। जिसकी वजह से श्रद्धा की फिल्म की शूटिंग को बीच में ही रोकना पड़ गया था। दरअसल, श्रद्धा काफी समय से बीमार चल रही थीं, लेकिन जब चैकअप करवाया गया तो पता चला कि उनको डेंगू है। इस वजह से इन्हें कुछ दिनों की छुट्टी पर घर भेज दिया गया था।

यश चोपड़ा

यश चोपड़ा हिंदी सिनेमा के बेहतरीन डायरेक्टरों में से एक थे। उन्होंने जमाने को रोमांस करना सिखाया था। हालांकि किसको पता था कि बॉलीवुड के इतने बड़े डायरेक्टर का निधन डेंगू से होगा। खबर के मुताबिक दिग्गज फिल्म निर्माता यश चोपड़ा का निधन 2012 में लीलावती अस्पताल में डेंगू बुखार से पीड़ित होने के बाद हुआ था। वह तब 80 साल के थे।  

लीजा हेडन

'क्वीन' फिल्म से फेमस हुईं मॉडल और एक्ट्रेस लीजा हेडन अपने बिंदास अंदाज के लिए जानी जाती हैं। लीजा ने बहुत ही कम फिल्में की हैं, लेकिन जितनी भी की हैं अपना प्रभाव छोड़ने में कामयाब रही हैं। बता दें कि लीजा भी डेंगू फिवर की शिकार हो चुकी हैं। अक्षय कुमार की फिल्म 'शौकीन्स' के प्रमोशनल टूर के दौरान वह बीमार पड़ गई थीं। उन्हें ब्रीच कैंडी अस्पताल ले जाया गया था, जहां डेंगू वायरस के लिए टेस्ट में उनका रिजल्ट पॉजिटिव निकला। 

बॉलीवुड सितारों का डेंगू से पीड़ित होना इस बात को दर्शाता है कि यह बीमारी किसी के साथ भेदभाव नहीं करती है। अमीर हो या गरीब यह किसी भी स्तर के लोगों को प्रभावित कर सकती है। ऐसे में हर किसी को एहतियात बरतने की जरूरत है।

Posted By: Ruhee Parvez

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस