डिनर में तला-भुना, जंक फूड, हैवी डेजर्ट का ऑप्शन हो तो मज़ा ही आ जाता है। बच्चों से लेकर बड़े-बूढ़े तक ऐसी चीज़ों को देखकर खुश हो जाते हैं लेकिन आपने कभी गौर किया है इन्हें खाने के बाद अक्सर गैस, एसिडिटी, पेट फूलने जैसी समस्याएं भी परेशान करने लगती हैं। कई बार तो नींद भी पूरी तरह से डिस्टर्ब हो जाती है। इसलिए कहा जाता है कि रात का भोजन जल्दी और हल्का करना चाहिए। तो अगर आप भी अक्सर नींद न आने की समस्या से जूझ रहे हैं तो एक बार जरा अपनी डाइट पर ध्यान दें, कहीं आप भी नहीं कर रहें ऐसी गलतियां?

रिफ़ाइंड कार्ब्स

कार्बोहाइड्रेट्स की जरूरत बॉडी में एनर्जी बनाए रखने के लिए होती है लेकिन रात को इसकी कोई खास जरूरत नहीं होती।रात के वक्त पिज्ज़ा, पास्ता, पूड़ी, पराठा जैसे जंक और ऑयली आइटम्स खाने से एसिडिटी और गैस बनने के पूरे-पूरे चांसेज होते हैं जिससे रात भर नींद नहीं आती। इसलिए रात के समय इन्हें खाना अवॉयड करें। हां, कॉम्लेक्स कार्बोहाइड्रेट्स लेने में कोई परेशानी नहीं।

सीरियल्स

लाइट खाने का मतलब ब्वॉयल्ड वेजिटेबल्स और दाल से है। कम खाने के चक्कर में अगर आप दूध के साथ सीरियल्स, खाने की सोच रहे हैं तो ये किसी भी तरह से सही ऑप्शन नहीं। पैकेट्स या बॉक्स में मिलने वाले सीरियल्स रिफ़ाइंड होते हैं और उनमें शक्कर की भरपूर मात्रा होती है, जिससे आपका शुगर लेवल एकदम से बढ़ सकता है। जिससे नींद डिस्टर्ब हो सकती है। 

चॉकलेट

खाने के बाद डेजर्ट का ट्रेंड ज्यादातर घरों में है जिसमें खीर से लेकर हलवा, गुलाब जामुन और भी कई तरह की मिठाइयां सर्व की जाती हैं कुछ अवेलेबल न होने पर लोग चॉकलेट ही खा लेते हैं लेकिन चॉकलेट में छिपे हुए कैफ़ीन और शक्कर आपकी नींद कर सकते हैं खराब। इसलिए रात में चॉकलेट खाना न सेहत के लिए अच्छा है न ही आपके दांतों के लिए।

Pic credit- freepik 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप