नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Janta Curfew: कोरोना वायरस से बचने के लिए देश भर में 22 मार्च यानी रविवार को 'जनता कर्फ्यू' रहेगा। इस मौके पर लोग सुबह 7 बजे से लेकर रात के 9 बजे तक अपने घरों में रहेंगे। वहीं, शाम में 5 बजे सभी लोग अपने घरों के दरवाज़े बालकनी या छत से ताली या थाली बजाकर उन लोगों का अभिवादन करेंगे, जो कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों को बचाने के लिए अपनी सेवा दे रहे हैं। इसमें डॉक्टर्स, नर्सें, मीडिया कर्मी आदि शमिल हैं।

22 मार्च को 'जनता कर्फ्यू' का पालन करें

भारत सरकार ने 19 मार्च को 'जनता कर्फ्यू' को लेकर एडवायज़री जारी की थी, जिसमें लोगों से अपील की गई थी कि 22 मार्च को सभी 'जनता कर्फ्यू' का पालन करें। इस दौरान लोग अपने घरों में ही रहें और बाहर न निकलें, जिनका घर से निकना बेहद आवश्यक है या मजबूरी है, सिर्फ वहीं लोग घर से बाहर जाएं। इसके साथ ही सरकार ने अपील करते हुए ये भी कहा है कि हमें एकजुट होकर कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकना है।

सरकार के इस कदम की पूरी देश में काफी प्रशंसा हो रही है। सिने जगत सहित सभी क्षेत्रों के लोगों ने देश की जनता से इसे सफल बनाने की अपील की है। वहीं, अगर आपको 'जनता कर्फ्यू' के समय क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए इस बारे में पूरी जानकारी नहीं है तो आइए जानें क्या करना ज़रूरी है।

क्या करें

1. घर में रहें, बाहर न जाएं

'जनता कर्फ्यू' के दिन घर पर ही रहें, घर से बाहर न जाएं। जब तक बहुत ज़रूरी या मजबूरी न हो, तब तक घर से बाहर न निकलें।

2. 10 लोगों को फोन कर जागरूक करें

इस दिन अपने करीबी कम से कम 10 लोगों को फोन कर इससे बचने के बारे में बताएं। कोरोना वायरस से बचने के लिए क्या-क्या सावधानी रखने की ज़रूरत है, इस बारे में भी बताएं।

3. संयम बरतें

इस मुश्किल घड़ी में संयम बरतें। घबराने की ज़रूरत नहीं है। अगर बहुत बीमार हों तभी हॉस्पिटल जाएं, अन्यथा फ़ोन के ज़रिए डॉक्टर से सलाह लें।

4. अपने हाथों को बार बार धोएं

'जनता कर्फ्यू' के दौरान और वैसे भी हर एक घंटे में अपने हाथों को हैंड वॉश या हैंड सेनिटाइज़र से धोएं। घर के हर एक सदस्य को भी ऐसा करने की सलाह दें।

5. पानी खूब पीएं

इस समय आप जितना अधिक हो सके, उतना पानी पीएं। इससे आपका शरीर हायड्रेट रहेगा, जिससे आपकी इम्यून सिस्टम भी मज़बूत होगा।

6. आइसोलेशन में रहें

भारत में कोरोना वायरस दूसरे स्टेज पर है। इस स्टेज में इसके संक्रमण का ख़तरा अधिक नहीं रहता है, लेकिन तीसरे स्टेज में जाने के बाद यह भयावह रूप ले सकता है। इसलिए अपने आप को आइसोलेशट रखें। इससे आप और आपका परिवार सुरक्षित रहेगा।

क्या नहीं करना चाहिए

1. इस दरम्यान अपनी चीज़ें घर के किसी भी सदस्य से शेयर न करें, जिसमें खाने-पीने और पहनने की चीज़ें भी शामिल हैं।

2. खूब सारे मास्क और हैंड सेनिटाइज़र न इकट्ठा करें

विश्व स्वास्थ्य विभाग ने एडवायज़री जारी कर कहा है कि स्वस्थ व्यक्ति के लिए मास्क ज़रूरी नहीं है। ऐसे में उन्हें सिर्फ और सिर्फ अपने इम्यून सिस्टम पर ध्यान देने की ज़रूरत है।

3. बार-बार चेहरे को न छुएं

अपने चेहरे को बार-बार न छुएं, न ही नाक, कान और मुंह को छुएं। ऐसा करने से संक्रमण आसानी से आपके शरीर में प्रवेश कर जाएगा।

4. खाने-पीने की चीज़ों को इकट्ठा न करें

ऐसा देखा जा रहा है कि लोग लॉक डाउन समझ कर खाने-पीने की चीज़ों को घरों में भर रहे हैं। इससे बाज़ार में नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है। 'जनता कर्फ्यू' सिर्फ वायरस संक्रमण की चेन को तोड़ने की कोशिश है, जो हवा में कुछ घंटे और ज़मीन पर लगभग 14 घंटे रहता है। ऐसे में अगर हम 14 घंटे संक्रमित व्यक्ति से दूर रहे तो इसके संक्रमण का ख़तरा कम हो जाएगा।

5. सोशल मीडिया पर फैली अफवाहों से बचें

सोशल मीडिया पर कई अफवाहें फ़ैल रही हैं, जिसमें कोरोना वायरस के इलाज का दावा किया जा रहा है। इस तरह के दावों में न फंसे क्योंकि कोरोना वायरस का फ़िलहाल कोई वैक्सीन नहीं है। कोरोना वायरस से बचने के लिए बचाव ही सबसे बड़ी दवा है।

Posted By: Umanath Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस