नई दिल्ली, जेएनएन। भारत समेत पूरी दुनिया में कोरोना वैक्सीनेशन तेजी से चल रहा है और दूसरी ओर कोरोना के नए केस भी रोज अच्छी-खासी संख्या में आ रहे हैं। यानी टीकाकरण और महामारी के बीच जंग चल रही है। ऐसी ही कुछ जंग हमारे घर के जीवन और बाहर निकलने के खतरे के बीच है। इन सब के बीच शरीर और दिमाग को स्वस्थ रखना एक बड़ी चुनौती है। इसलिए विशेषज्ञ लोगों को इसके लिए टिप्स दे रहे हैं। पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड की इवरी माइंड मैटर सर्विस ने भी लोगों को अपना ख्याल रखने के लिए कुछ सलाह दी है-

1. लोगों से जुड़े रहें

अब भी लोग बाहर कम निकल रहे हैं और अकेला महसूस कर रहे हैं। याद रखें- रिश्ते मानसिक सेहत के लिए जरूरी हैं। इसलिए दोस्तों और परिवार के साथ फोन, मैसेज और वीडियो कॉल के जरिए जुड़े रहें।

2. अपनी चिंताओं के बारे में बात करें

परिवार और दोस्तों से खुलकर बात करें। जो भी चिंता या परेशानी है, उसके बारे में उन्हें बताएं। वहीं, दूसरों की परेशानी भी सुनें और उनकी मदद करें। ज्यादा तनाव हो तो मनोवैज्ञानिक से परामर्श लें।

3. प्रैक्टिकल योजना बनाएं

वक्त से पहले योजना बना लेने से रोजमर्रा की जिंदगी में तनाव कम होता है। सामान, दवा कैसे मंगानी है, उसकी पूरी तैयारी करें। ऑनलाइन या फोन के जरिए होम डिलीवरी की सुविधा उपलब्ध है। वहीं अगर आपको किसी दूसरी जगह मौजूद व्यक्ति की देखभाल करनी है तो फोन पर उनके साथ संपर्क में रहें। स्थानीय प्रशासन की भी मदद ले सकते हैं।

4. अपने शरीर का ख्याल रखें

अपने शारीरिक स्वास्थ्य का ख्याल रखें। इसके लिए सक्रियता और संतुलित आहार जरूरी है। पानी भी पर्याप्त मात्रा में पिएं। याद रखें कि शारीरिक सक्रियता से मूड भी अच्छा होता है। ऑनलाइन ढेर सारे व्यायाम के वीडियो हैं, उन्हें देखकर नए व्यायाम आजमाएं। वहीं नशे से परहेज करें।

5. अधिक तनाव नहीं लें

ज्यादा तनाव लेने से आपका जीवन प्रभावित होगा। इसलिए उन चीजों पर फोकस करें, जो आपके नियंत्रण में हैं, जैसे आपको क्या करना है और आप सही सूचनाएं कहां से पा सकते हैं। उन चीजों के लिए परेशान न हों, जो आपके नियंत्रण में नहीं है।

6. वायरस की खबरें सुनकर परेशान न हों

अपडेट रहना अच्छा है, लेकिन यह भी देखें कि वायरस आदि की ज्यादा खबरें आपको तनाव तो नहीं दे रही हैं। सोशल मीडिया की हर खबर पर भरोसा न करें। फैक्ट चेक सूचनाओं पर विश्वास करें।

7. अपने अधिकार और योजनाओं का लाभ उठाएं

लोग घर पर हैं और अपने रोजगार और पैसे को लेकर चिंतित हैं। किसी मुश्किल में अपने नियोक्ता या बॉस से बात करें। देखें कि कौन सी सरकारी योजना आपके बिजनेस में मदद कर सकती है।

8. शौक पूरा करें

अगर आप चिंता या तनाव महसूस कर रहे हैं तो इसका यह कारण हो सकता है कि आपने वे चीजें करनी बंद कर दी हैं, जो आपको पसंद थीं। इसलिए घर पर रहने के दौरान अपने शौक पर फोकस करें। चाहे वह पेंटिंग हो या खाना बनाना।

9. अच्छी नींद लें

अच्छी नींद बड़ा बदलाव लाती है। आप कैसा महसूस करते हैं, इस पर नींद का काफी प्रभाव होता है। इसलिए अपनी नियमित नींद के पैटर्न को बिगड़ने न दें।

10. खुद को शांत रखने के लिए वक्त निकालें

यह मुश्किल भावनाओं और चिंताओं से लड़ने में मदद कर सकता है। यह हमारे जीवन की गुणवत्ता में सुधार कर सकता है। रिलैक्सिंग टेक्निक आपको चिंता की भावनाओं से निपटने में भी मदद कर सकती है। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021