नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Difference Between Coronavirus & Swine Flu: कोरोना वायरस के संक्रमण से अब तक चीन में 1300 से ज़्यादा लोग अपनी जान गवां चुके हैं, जबकि 60,349 लोग इससे संक्रमित हैं। वहीं, करीब 6,216 लोग इस संक्रमण की चपेट में आने के बाद अब स्वस्थ हो चुके हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी WHO ने कोरोना वायरस के प्रकोप को सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल घोषित किया है और यह भी माना है कि इससे दुनिया के बाकी हिस्सों को भी गंभीर खतरा है।

भारत के केरल में इस संक्रमण के तीन मामले सामने आए थे, जिनमें से दो की रिपोर्ट नेगेटिव आई। घातक वायरस को अभी भी एक महामारी या महामारी के रूप में परिभाषित किया जाना है, जहां एक महामारी एक विशेष क्षेत्र में एक बीमारी की व्यापक घटना है और महामारी रोग का वैश्विक प्रसार है।

कोरोना वायरस को मिला आधिकारिक नाम

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस का एक आधिकारिक नाम घोषित किया है, जो COVID-19 है। इसका मतलब है Coronavirus Disease19।

क्या है कोरोना वायरस

कोरोना वायरस का संबंध एक ऐसी बीमारी से है, जिससे व्यक्ति को सर्दी, बुखार, सुखी खांसी, और सांस लेने की समस्या होती है। इसकी शुरुआत चीन के शहर वुहान से हुई थी। ये बीमारी इंसानों में जानवरों से फैली है, हालांकि CoV19 एक इंसानों से दूसरे में भी फैल रही है। फ़िलहाल इस वायरस का ईलाज या टीका बाज़ार में उपलब्ध नहीं है, और न ही बना है।

स्वाइन फ्लू से कैसे अलग है कोरोना वायरस

WHO के अनुसार, COVID-19 की मृत्यु दर के बारे में निर्णायक बयान देना इस वक्त जल्दबाज़ी होगी। यहां तक कि अभी तक कोरोनोवायरस कितना खतरनाक है इसकी कोई स्पष्ट रिपोर्ट नहीं है।

स्वास्थ्य अधिकारी इस बीमारी के स्रोत की पहचान करने के लिए चौबीस घंटे काम कर रहे हैं और उनका मानना ​​है कि इसके लक्षण एक्सपोज़र के 2 से 14 दिन बाद तक दिखाई दे सकते हैं।

COVID-19 के लक्षण

1. बुखार

2. खांसी

3. सांस लेने में तकलीफ

4. उलटी

5. नाक बहना

6. गले में खराश

क्या है H1N1 इंफ्लूएंज़ा?

वहीं, दूसरी तरफ, H1N1 यानी स्वाइन फ्लू, एक अत्यधिक संक्रामक है जो मनुष्यों में एक प्रकार का इन्फ्लुएंज़ा ए वायरस है जिसके कारण सांस की तकलीफ होने लगती है। इसकी शुरुआत साल 2009 में मेक्सिको से हुई थी, जिसके बाद ये संक्रमण 74 देशों में फैल गया। क्योंकि स्वाइन फ्लू के लक्षण आम फ्लू से मिलते हैं, इसलिए ये आम फ्लू की तरह फैलता भी है।

इसके लक्षणों में: 

1. तेज़ बुखार

2. सिर दर्द

3. गले में खराश

4. कंपकपी

5. बेचैनी

क्योंकि स्वाइन फ्लू और CoVID​​-19 के शुरुआती लक्षण बहुत समान होते हैं, इसलिए बीमारी की प्रकृति की पुष्टि के लिए प्रयोगशाला परीक्षणों की आवश्यकता होती है।

टीका:

H1N1 से बचने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप इसका टीका लगवाएं। इसके टीके को क्वाड्रीवेलेंट फ्लू वैक्सीन कहते हैं। वहीं, ब्रिटेन के वैज्ञानिकों ने नए कोरोना वायरस के टीके को चूहों पर टेस्ट करना शुरू कर दिया है। हालांकि, अभी तक कोरोना वायरस से बचने के लिए अभी तक कोई दवा उपलब्ध नहीं है। 

Posted By: Ruhee Parvez

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस