नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। High Cholesterol Symptoms: शरीर में जब एलडीएल कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ जाता है तो उसे मेडिकल भाषा में हाई कोलेस्ट्रॉल कहते हैं। हाई कोलेस्ट्रॉल को हाइपर कोलेस्ट्रोलोमिया और हाइपरलिपिडेमिआ के नाम से भी जाना जाता है। एलडीएल कोलेस्ट्रॉल का लेवल जरूरत से ज्यादा होने पर फैट ब्लड वेसेल्स में जमने लगती है, जिससे ब्लड का सर्कुलेशन सही तरीके से नहीं हो पाता है। ब्लड सर्कुलेशन में किसी भी तरह की रुकावट हार्ट और ब्रेन के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। हाई कोलेस्ट्रॉल की प्रॉब्लम आजकल किसी भी व्यक्ति को हो सकती है। एक रिसर्च के अनुसार, भारत में हाई कोलेस्ट्रॉल के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है।

क्या है एलडीएल?

एलडील को ही बैड कोलेस्ट्रॉल भी कहा जाता है। यह धमनियों में जम सकता है और इसके चलते कई सीरियस हेल्थ प्रॉब्लम्स हो सकती है, जैसे- हार्ट अटैक या स्ट्रोक। कोलेस्ट्रॉल हाई होने पर शरीर में कई तरह के लक्षण नजर आने लगते हैं।तो इस पर नजर रखें। इसके अलावा समय-समय पर ब्लड टेस्ट कराते रहें, जिससे बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल के साथ और भी दूसरी बीमारियों का समय रहते पता चल सके। 

शरीर में कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ने पर नजर आते हैं ये लक्षण

पैरों में सूजन

बैड कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ने पर पैरों में सूजन की प्रॉब्लम हो सकती है। तो अगर यह समस्या लगातार बनी रहती है तो तुरंत जांच करवाएं। 

त्वचा का रंग बदलना

शरीर में जब कोलेस्ट्रॉल लेवल हाई होता है तो त्वचा का रंग भी बदलने लगता है। तो अगर आपको भी ये फील हो तो बिना देर किए डॉक्टर से दिखाएं।

पैरों में दर्द

पैरों में दर्द होने की एक या दो नहीं बल्कि कई वजहें हो सकती हैं जिनमें से एक कोलेस्ट्रॉल लेवल हाई होना भी है।

रात में क्रैम्प्स

कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ने पर शरीर के निचले अंगों की आर्टरीज़ को नुकसान पहुंचता है, जिसकी वजह से रात को सोते समय पैरों में क्रैम्प्स हो सकते हैं।

पसीना निकलना

किसी भी मौसम में जरूरत से ज्यादा पसीना आना हाई कोलेस्ट्रॉल का लक्षण हो सकता है। अगर आपको ऐसी समस्या हो, तो डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं।

अल्सर जो ठीक नहीं होता

जैसे ब्लड शुगर बढ़ने पर अल्सर ठीक नहीं होते है, वैसे ही कई बार शरीर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर भी अल्सर ठीक नहीं होता है। तो इस लक्षण को भी बिल्कुल नजरअंदाज न करें।

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें किसी पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Pic credit- freepik

Edited By: Priyanka Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट