दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Diabetes: आधुनिक समय में लोग फिजिकल एक्टिविटी कम और मेंटली एक्टिविटी अधिक करने लगे हैं। इससे उनकी सेहत पर बुरा असर पड़ता है। आसान शब्दों में कहें तो आजकल लोग तनाव में अधिक जीते हैं। साथ ही खराब दिनचर्या और गलत खानपान की वजह से कई बीमारियां जन्म लेती हैं। इनमें मोटापा, मधुमेह, उच्च रक्तचाप, स्ट्रोक, हृदय रोग शामिल हैं। अगर आप भी मधुमेह के मरीज हैं, तो अपनी लाइफस्टाइल और डाइट में बदलाव करें। साथ ही रोजाना फिजिकल एक्टिविटी जरूर करें। आप शुगर कंट्रोल करने के लिए फिजिकल एक्टिविटी रोजाना ये एक्सरसाइज जरूर करें। आइए जानते हैं-

रनिंग करें

डायबिटीज के मरीज सेहतमंद रहने और शुगर कंट्रोल करने के लिए रोजाना सुबह रनिंग जरूर करें। अगर रनिंग में तकलीफ होती है, तो आप ब्रिस्क वॉकिंग या वॉकिंग का सहारा ले सकते हैं। इससे भी शुगर कंट्रोल करने में मदद मिलती है। इसके अलावा, आप सेहतमंद भी रहते हैं।  

साइकिलिंग करें

एक शोध में अनुसार, मोटापे से परेशान लोगों को रोजाना साइकिलिंग करना चाहिए। इससे न केवल मोटापे से निजात पा सकते हैं, बल्कि दिल की बीमारियों से भी छुटकारा मिलता है। इसके अलावा, मधुमेह में भी आराम मिलता है। इसके लिए रोजाना कम से कम 30 मिनट साइकिलिंग जरूर करें।

डांस करें

डांस भी सेहत के लिए फायदेमंद होता है। इससे पूरे शरीर में रक्त का संचार सही से होता है। साथ ही मोटापा और मधुमेह में भी आराम मिलता है। इसके लिए डायबिटीज के मरीज डांस का सहारा ले सकते हैं। खासकर, जुंबा डांस करना अधिक फायदेमंद हो सकता है।  

स्विमिंग करें

स्विमिंग करने से पूरे शरीर की एक्सरसाइज होती है। इससे कई रोगों में आराम मिलता है। स्विमिंग यानी तैराकी करने से तनाव, अस्थमा और अनिद्रा में आराम मिलता है। इसके अलावा, तैराकी से मधुमेह में भी फायदा मिलता है। इसके लिए मधुमेह के मरीज स्विमिंग का आनंद उठा सकते हैं।

योग करें

योग के कई आसन हैं, जो विभिन्न प्रकार की बीमारियों में फायदेमंद होते हैं।  इनमें अर्ध मत्स्येन्द्रासन, प्राणायाम, पश्चिमोत्तानासन, धनुरासन, नौकासन  और  विपरीत करनी मधुमेह के लिए फायदेमंद होते हैं। इन योगासन को करने से शुगर कंट्रोल करने में मदद मिलती है। मधुमेह के मरीज रोजाना इन योगासन को जरूर करें।

डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

Edited By: Pravin Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट