नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। सर्दी में सफेद-सफेद मूली ना सिर्फ खाने का स्वाद बढ़ाती है, बल्कि सेहत का भी ध्यान रखती है। मूली का इस्तेमाल सलाद के साथ और सब्जी बनाकर किया जाता है। मूली में प्रोटीन, विटामिन-ए, विटामिन-बी, सी, आयरन, आयोडीन, कैल्शियम, गंधक, सोडियम, मैग्नीशि‍यम, फास्फोरस और क्लोरीन भरपूर होता है जो अच्छी सेहत के लिए बेहद जरूरी है। सर्दी में खाने के साथ मूली का सेवन करने से खाने का स्वाद बढ़ता है।

पौषक तत्वों से भरपूर मूली को खाने से कुछ लोग परहेज़ करते हैं क्योंकि इसे खाने से मुंह से बदबू और डकार आती है। लेकिन आप जानते हैं कि मूली में पाए जाने वाले तत्व कई बीमारियों से बचाने में मददगार होते हैं। सर्दी में मूली बॉडी को हाइड्रेट रखती है, साथ ही कई तरह की परेशानियों से निजात भी दिलाती है। आइए जानते हैं कि मूली सर्दी में कौन-कौन सी बीमारियों का उपचार करती है।

सर्दियों में मूली खाने के फायदेः  

ब्लड प्रेशर कंट्रोल करती है:

कई अध्ययनों में यह बात सामने आई है कि मूली ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में बेहद मददगार है। मूली शरीर को पोटैशियम देती है, जिससे ब्लड प्रेशर को कंट्रोल किया जा सकता है।

दिल की सेहत दुरुस्त रखती है:

सर्दियों के मौसम में मूली का सेवन दिल की सेहत के लिए काफी फायदेमंद है। एंटी ऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर मूली दिल को सेहतमंद रखने में मदद करती है।

इम्यूनिटी बढ़ाती है:

सर्दियों के मौसम में इम्यूनिटी को मजबूत बनाने के लिए मूली का सेवन फायदेमंद है। मूली में विटामिन ए, सी, बी6, पोटैशियम और अन्य मिनरल मौजूद होते हैं जो इम्यूनिटी को बढ़ाने में मदद करते हैं।

सर्दी-खांसी का इलाज करती है:

सर्दियों में सर्दी-खांसी की समस्या से निजात पाने के लिए मूली बेहतरीन दवा है। मूली में एंटी कंजेस्टिव गुण पाए जाते हैं, जो खांसी की समस्या से छुटकारा दिलाते हैं।  

एसिडिटी का इलाज करती है:

अगर आप एसिडिटी से परेशान रहते हैं तो कच्ची मूली का सेवन करें। कच्ची मूली में फाइबर की मात्रा अधिक होती है, जो एसिडिटी से छुटकारा दिलाने में मददगार होती है। 

डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

Edited By: Shahina Noor