Move to Jagran APP

हार्ट अटैक की वजह बन सकता है High Cholesterol, इन आयुर्वेदिक तरीकों से करें इसे कंट्रोल

Health Tips हाई कोलेस्ट्रॉल की वजह से ब्लड सर्कुलेशन में रुकावट हृदय रोग दिल के दौरे और स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है। ऐसे में अपने दिल को सेहतमंद बनाए रखने के लिए जरूरी है कि इसके बढ़े हुए स्तर को नियंत्रण में रखा जाए। आप हाई कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने के लिए इन आयुर्वेदिक तरीकों की मदद ले सकते हैं।

By Harshita SaxenaEdited By: Harshita SaxenaThu, 13 Jul 2023 08:29 AM (IST)
हाई कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम करने के लिए खाएं ये आयुर्वेदिक फूड्स

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Health Tips: हाई कोलेस्ट्रॉल का स्तर आपके दिल के स्वास्थ्य के लिए काफी हानिकारक हो सकता है। कोलेस्ट्रॉल के हाई लेवल से दिल का दौरा और अन्य हृदय संबंधी बीमारियों का खतरा बढ़ सकता है। इन दिनों खानपान की गलत आदतें, बदलती जीवनशैली और व्यायाम की कमी से कोलेस्ट्रॉल के स्तर में वृद्धि होने लगती है, जो कई शरीर के कई इंटरनल फंक्शन को प्रभावित कर सकते हैं। ऐसे में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने के लिए आयुर्वेद एक बढ़िया इलाज साबित हो सकता है। अगर आप अपने दिल को स्वस्थ रखना चाहते हैं, इन आयुर्वेदिक फूड आइटम्स की मदद से अपना कोलेस्ट्रॉल लेवल कंट्रोल कर अपने हार्ट को हेल्दी बना सकते हैं।

लहसुन

लहसुन एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट है और यह कुल और एलडीएल (खराब) कोलेस्ट्रॉल दोनों के स्तर को कम करता है। आप लहसुन को कच्चा, पकाकर या सप्लीमेंट के रूप में खा सकते हैं।

गुग्गुल

गुग्गुल कॉमिफोरा मुकुल पेड़ की एक राल है, जिसका उपयोग सदियों से आयुर्वेदिक चिकित्सा में हाी कोलेस्ट्रॉल सहित विभिन्न बीमारियों के इलाज के लिए किया जाता रहा है। यह एलडीएल कोलेस्ट्रॉल कम करने मदद करता है।

आंवला

आंवला एक प्रकार की बेरी है, जो एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन सी से भरपूर होता है। इसे कुल और एलडीएल कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने और एचडीएल (अच्छे) कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाने के लिए काफी असरदार माना जाता है। आप आंवले को ताजा, सुखाकर या सप्लीमेंट के रूप में खा सकते हैं।

त्रिफला

त्रिफला तीन फलों-अमलाकी, बिभीतकी और हरीतकी का एक कॉम्बिनेशन है, जिसका उपयोग शरीर को शुद्ध करने और पाचन में सुधार करने के लिए आयुर्वेदिक चिकित्सा में किया जाता है। यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में भी मददगार साबित होता है।

ग्रीन टी

ग्रीन टी एंटीऑक्सीडेंट का एक अच्छा स्रोत है और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करती है। ग्रीन टी को आप गर्म या ठंडा पी सकते हैं।

धनिया के बीज

धनिया के बीज घुलनशील फाइबर का अच्छा स्रोत होते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद कर सकते हैं। आप धनिये के बीजों को अपने भोजन में शामिल कर सकते हैं या उनकी चाय बना सकते हैं।

मेथीदाना

मेथीदाना भी घुलनशील फाइबर का एक और अच्छा स्रोत हैं और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में भी मददगार साबित होता है। आप मेथी के दानों को अपने भोजन में शामिल कर सकते हैं या उनकी चाय बना सकते हैं।

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Picture Courtesy: Freepik