सर्दियों में मिलने वाली तरह-तरह की सब्जियों में हरा चना भी शामिल है जो एक बहुत ही हेल्दी वेजिटेबल है। हरे चने को छोलिया भी कहा जाता है। इसमें कैलोरी की मात्रा कम लेकिन और कई जरूरी न्यूट्रिशन अच्छी-खासी मात्रा में मौजूद होते हैं। सबसे अच्छी बात कि इस चने से आप सिर्फ वेजिटेरियन ही नहीं नॉन वेजिटेरियन डिशेज़ भी तैयार कर सकते हैं। तो आइए जानते हैं हरे चने की खासियत के बारे में जरा और विस्तार से।  

1. प्रोटीन का खजाना

हरे चने में प्रोटीन अच्छी-खासी मात्रा में मौजूद होता है जो मसल्स ग्रोथ के लिए बहुत ही जरूरी न्यूट्रिशन है। इसके अलावा प्रोटीन इंस्टेंट एनर्जी देने का काम करता है। अगर आप मोटापा कम करने की प्लानिंग कर रहे हैं तो आपको प्रोटीन रिच डाइट पर फोकस करना चाहिए।

2. विटामिन से भरपूर

हरे चनों में विटामिन ए और सी भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो हमारे शरीर के लिए सबसे ज्यादा जरूरी न्यूट्रिशन्स में से एक हैं। विटामिन सी जहां हमारी इम्यूनिटी स्ट्रॉन्ग कर तरह-तरह की संक्रामक बीमारियों से बचाता है वहीं विटामिन ए स्किन को हेल्दी बनाए रखने का काम करता है।

3. फोलेट का अच्छा स्त्रोत

हरे चने विटामिन B9 और फोलेट का अच्छा स्त्रोत होते हैं। जो सर्दियों में हेल्थ के साथ-साथ हमारे मूड को भी अच्छा रखते हैं। फोलेट को खासतौर से अवसाद के लक्षणों से लड़ने के लिए जाना जाता है, जो कि सीजनल अफेक्टिव डिसऑर्डर (SAD) या विंटर ब्लूज़ से शुरू हो सकता है - एक ऐसी स्थिति जो सर्दियों के दौरान बहुत ज्यादा बढ़ जाती है। तो अगर आपको भी ये समस्या रहती है तो हरे चने का सेवन शुरू करें।

हरे चने को आप कई तरीकों से अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। कच्चा खाने के अलावा इससे आप घुंघनी, कबाब, टिक्की, पुलाव और तो और सलाद भी तैयार कर सकते हैं।  

Pic credit- freepik

Edited By: Priyanka Singh